Monday, December 5, 2022
HomeEntertainmentVinod Khanna Son Akshaye Khanna Said Dad Vinod Khanna Decision To Leave...

Vinod Khanna Son Akshaye Khanna Said Dad Vinod Khanna Decision To Leave His Family And Career, Take Sanyaas An Earthquake For Us – विनोद खन्ना ने करियर के पीक पर ले लिया था संन्यास, बेटे अक्षय खन्ना ने बताया

ने करियर के पीक पर ले लिया था संन्यास

:

खन्ना ने करियर के पीक पर अपने परिवार छोड़ दिया था और 1975 में वह आध्यात्मिक नेता ओशो के शिष्य बन थे. फैसले से परिवार और फैंस हैरान रह गए थे. बड़े बेटे अक्षय खन्ना काफी छोटे थे. में उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि तब मैं इतना था कि पापा के फैसले को समझ नहीं सकता था. हालांकि जब वह 15 साल के हुए, तब उन्होंने अपने पिता के जीवन पर ओशो के प्रभाव को समझा.

भी पढ़ें

कुछ साल पहले मिड-डे को दिए एक इंटरव्यू में अक्षय खन्ना ने कहा था कि छोड़ना संन्यास ही एक हिस्सा था. केवल अपने परिवार को छोड़ने के लिए, देने के लिए. संन्यास का अर्थ है अपने को समग्रता में छोड़ना – परिवार इसका एक हिस्सा है. जीवन बदलने वाला निर्णय है, जिसे उन्होंने महसूस किया उन्हें उस की जरूरत है. की उम्र में इसे समझना मेरे लिए असंभव था. अब हूं.

अक्षय ने इस बारे में भी बताया कि विनोद खन्ना अपने के पास आए , आंदोलन को लेकर मतभेद हो गए थे. किया कि अमेरिकी सरकार द्वारा कम्यून को भंग करने उनके पिता लौट आए. यह सिर्फ तथ्य था कि को भंग कर दिया गया, कर दिया और सभी को अपना रास्ता खोजना पड़ा. वापस आए नहीं तो मुझे नहीं लगता कि वह कभी वापस आते.

ने कहा कि आध्यात्मिक नेता ओशो के लिए उनके मन में हमेशा बहुत सम्मान था. नहीं पता कि संन्यास कुछ ऐसा है, कर सकता था. लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मैं प्रवचनों का नहीं ले सकता, उनकी बुद्धि, वक्तृत्व कौशल और के तरीके का सम्मान नहीं सकता. में उनके लिए गहरा सम्मान है.

See also  करिश्मा कपूर ने बितायी आमिर खान के साथ लगातार 3 राते, कुछ दिन तक रही थी हालत खराब…

कि विनोद खन्ना का कैंसर से जूझने के बाद अप्रैल 2017 में निधन हो गया. उन्होंने 1968 में मन का बॉलीवुड में था. में श्रीदेवी और ऋषि कपूर के साथ चांदनी समेत फिल्मों में काम किया.


RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments