Thursday, December 8, 2022
HomeBreaking NewsUPA विधायकों का CM हाउस पहुंचना शुरू; बुक की गई फ्लाइट |...

UPA विधायकों का CM हाउस पहुंचना शुरू; बुक की गई फ्लाइट | Hemant Soren BJP MLA | Jharkhand JMM Congress MLA Chhattisgarh Raipur Hotel Update

रांची44

झारखंड में सियासी हलचल के बीच गठबंधन दल के विधायकों को रायपुर ले जाने की तैयारी की जा रही है। रांची एयरपोर्ट में इंडिगो की स्पेशल फ्लाइट बुक की गई है। साढ़े 4 बजे विधायकों को रायपुर शिफ्ट किया जा सकता है। सभी विधायक और मंत्री CM हाउस पहुंच रहे हैं। बताया जा रहा है कि यहां से बसों के जरिए विधायकों को एयरपोर्ट ले जाया जाएगा। से विधायकों को रायपुर भेजा जाएगा।

एयरपोर्ट पर भी विधायकों के पहुंचे को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। को एयरपोर्ट से बसों के जरिए नया रायपुर के मेफेयर रिसॉर्ट ले जाया जाएगा। शाम साढ़े 5 बजे तक विधायकों के रायपुर पहुंचने की खबर है। बताया जा रहा है कि रिसॉर्ट में 30-31 अगस्त की बुकिंग की गई है।

CM हाउस पहुंचे हेल्थ मिनिस्टर बन्ना गुप्ता ने कहा कि सरकार को गिराने की साजिश रची जा रही है। अध्याय लिखने का काम कर रही है। पास कोई मुद्दा नहीं है। मज़बूत हैं और एकजुट हैं।

के मेफेयर लेक रिसॉर्ट में विधायकों के ठहरने की व्यवस्था की गई है।

ने 1 सितंबर को कैबिनेट की बैठक बुलाई

इधर सियासी संकट के बीच CM हेमंत सोरेन ने 1 सितंबर को कैबिनेट की बैठक बुलाई है। इसमें जनता के हित से जुड़े कई अहम फैसले लेने संबंधी बातें कही जा रही है। वहीं विधानसभा अध्यक्ष की तरफ से आज BJP के विधायक दल के नेता बाबू लाल मरांडी की विधायकी से संबंधी फैसले भी आने वाला है। दिनों से शांत पड़ी झारखंड की सियासत में एक बार फिर से हलचल शुरू हो गई है। इस बीच सोमवार को CM हेमंत सोरेन के भाई बसंत सोरेन की विधायकी पर भी चुनाव आयोग में चर्चा हुई, लेकिन इस पर कोई निर्णय नहीं हो सका।

comp 1 2 1661795084

को राज‌‌भवन के पत्र का इंतजार

See also  Jharkhand Chief Minister Hemant Soren Calls UPA Meet Today Amid 'Disqualification' Buzz

आयोग के एक बड़े पदाधिकारी की मानें तो गेंद अभी भी राजभवन के पाले में हैं। आयोग ने पहले ही मामले की पूरी जांच-पड़ताल के बाद अपना निर्णय सुना दिया है। को जारी करना है। निर्देश के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। राजभवन इस संबंध में गैजेट जारी करेंगे, जिसे राज्य निर्वाचन आयोग विधानसभा स्पीकर को देगा। आगे की कार्रवाई शुरू की जाएगी।

untitled 1 22 1661795109

अब CM ने भी साधा राज्यपाल पर निशाना

चुनाव आयोग से आए निर्देश संबंधी सवाल पूछने पर CM हेमंत सोरेन ने राज्यपाल पर निशाना साधा। कि यह तो राज्यपाल रमेश बैस ही बताएंगे। इंतजार कर रहे हैं। के विषय में ज्यादा अच्छे से राजभवन ही बता पाएगा। CM ने कहा कि वह कुर्सी से दिल्लगी नहीं करते। वे राज्य के सवा तीन करोड़ लोग, आदिवासी, दलित, पिछड़े, गरीब, मजदूरों से दिल्लगी करते हैं।

12344444444444444444 1661795021

CM रिलैक्स दिखने की कर रहे हैं कोशिश, – चिंता की कोई बात नहीं

CM हेमंत सोरेन ने कहा कि चिंता की कोई बात नहीं। नकदी के साथ कोलकाता में गिरफ्तार किए गए कांग्रेस के तीन विधायकों का संदर्भ देते हुए विधायकों की खरीद-फरोख्त के सवाल पर उन्होंने कहा- तीनों विधायकों की गिरफ्तारी की वजह जांच का विषय है। ऐसे हैं जो बिकने के लिए खड़े हो जाते हैं और कुछ नहीं बिकते। वाले मुसीबत में फंसते हैं। जो बच जाते हैं, उनकी बल्ले-बल्ले हो जाती है।

पत्नी का नाम सबसे आगे

सोरेन की मुख्यमंत्री की कुर्सी जाती है तो इस पद के लिए सबसे पहला नाम सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन का है। और तीसरे नंबर पर जोबा मांझी और चंपई सोरेन हैं। परिवार के काफी करीबी और विश्वस्त हैं। कांग्रेस ने भी इन नामों पर अभी तक नहीं किसी तरह की आपत्ति नहीं जताई है।

1661794969

खनन पट्टे का मामला?

See also  Pm Modi Notes Contribution Of Common Men In Education Mentions Jharkhand Library Man - मन की बात: पीएम मोदी ने शिक्षा में आम आदमी के योगदान को गिनाया, झारखंड के लाइब्रेरी मैन का किया जिक्र

10 फरवरी को पूर्व CM रघुवर दास के नेतृत्व में BJP के एक डेलिगेशन ने गवर्नर से मुलाकात की थी। BJP ने राज्यपाल से CM सोरेन की सदस्यता रद्द करने कि मांग की थी। BJP ने आरोप लगाया था कि CM सोरेन ने पद पर रहते हुए रांची के अनगड़ा में 88 डिसमिल पत्थर माइनिंग लीज लिया है। BJP का आरोप है कि यह लोक जनप्रतिनिधित्व अधिनियम (RP) 1951 की धारा 9A का उल्लंघन है। गवर्नर ने BJP की यह शिकायत चुनाव आयोग को भेजी।

दल-बदल मामले में बाबूलाल मरांडी पर हो सकती है कार्रवाई

दरअसल बाबूलाल मरांडी पर झाविमो (झारखंड विकास मोर्चा) के सिंबल पर विधानसभा चुनाव 2019 में निर्वाचित होने के बाद भाजपा में शामिल हो गए। कहा कि उन्होंने झाविमो का विलय भाजपा में नियमानुसार किया है। विधायकों में से दो को निष्कासित करने के बाद पार्टी में बचे एक मात्र विधायक ने पार्टी का विलय करने का निर्णय किया। दल-बदल का मामला नहीं बनता है। में भाजपा के विलय को निर्वाचन आयोग की मंजूरी भी मिल चुकी है।

1661795481 1661845138

शिकायतकर्ता विधायक दीपिका पांडेय सिंह और प्रदीप यादव की तरफ से कहा गया कि झाविमो का भाजपा में दो तिहाई बहुमत से विलय नहीं हुआ है। दल-बदल का मामला बनता है। लंबी बहस के बाद विधानसभा अध्यक्ष आज फैसला सुना सकते हैं।

बने पहले CM

15 नवंबर 2000 को झारखंड बनने के साथ ही BJP सरकार में बाबूलाल मरांडी ने पहली बार राज्य की कमान संभाली और झारखंड के पहले CM बने। अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सके। विरोध के कारण मुख्यमंत्री का पद छोड़ना पड़ा।

See also  PTM did not happen in 4117 schools of Jharkhand Education Department gave instructions for action

बनने के 22 सालों में 11 सीएम बदल चुके हैं। इनमें मौजूदा सीएम हेमंत सोरेन के पिता शिबू सोरेन सबसे कम 10 दिनों के लिए जबकि बीजेपी के रघुवर दास सबसे ज्यादा 5 सालों के लिए सीएम रहे। दास झारखंड के एकमात्र मुख्यमंत्री हैं, जिन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया है।

12222222223333333333333333333 1661795184

झारखंड महागठबंधन को हॉर्स ट्रेडिंग का डर:BJP के संपर्क में कांग्रेस के कई MLA; UPA विधायकों ने राज्यपाल से मिलने का मांगा समय

झारखंड में 22 साल में बदले 11 मुख्यमंत्री:सोरेन परिवार को मिले 5 मौके; सबसे कम 10 दिन के CM रहे शिबू सोरेन

सत्ता का खेल:झारखंड में CM हेमंत सोरेन की कुर्सी रहे या जाए; के पीछे से ही सही, सत्ता में वे बने रहेंगे

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments