Thursday, October 6, 2022
HomeBreaking NewsUp News : 15 Suspended In Levana Suits Fire Case - Levana...

Up News : 15 Suspended In Levana Suits Fire Case – Levana Fire : लेवाना अग्निकांड में 15 निलंबित, मुख्यमंत्री योगी के निर्देश पर देर रात जारी हुआ फरमान

सुनें

सितंबर 2022 को होटल लेवाना सुइट्स में लगी आग से चार के हादसे लिए मंडलायुक्त डॉ. रोशन जैकब और पुलिस आयुक्त एसबी शिरडकर की जांच में 19 अधिकारी, इंजीनियर, कर्मचारी दोषी पाए गए हैं। इनमें से अभी सेवा में एक पीसीएस अधिकारी सहित 15 को शासन ने निलंबित कर दिया है। के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू करा दी गई है। योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर देर रात हादसे के जिम्मेदारों के खिलाफ शासन ने कार्रवाई कर दी।

बृहस्पतिवार की रात को ही मंडलायुक्त व पुलिस आयुक्त ने अपनी जांच रिपोर्ट गृह विभाग को सौंप दी थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर अब मुख्यमंत्री ने हादसे के लिए प्रथम दृष्ट्या दोषी और लापरवाही करने वाले अधिकारियों, इंजीनियरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की है।

अब मुख्यमंत्री के निर्देश पर गृह विभाग, नियुक्ति विभाग, आबकारी विभाग के अधिकारियों को निलंबन कर विभागीय कार्रवाई शुरू करानी होगी। चुके जिम्मेदारों के खिलाफ भी विभागीय नियमों केमुताबिक कार्रवाई की जाएगी। शासन के प्रवक्ता का कहना है कि मुख्यमंत्री ने कार्रवाई के निर्देश जांच रिपोर्ट मिलने के बाद दिए हैं।

चार मौतों के जिम्मेदार :
:
सुशील यादव, तत्कालीन अग्निशमन अधिकारी, अभयभान पांडेय, सेवानिवृत्त मुख्य अग्निशमन अधिकारी, योगेंद्र प्रसाद, अग्निशमन अधिकारी-द्वितीय, विजय कुमार सिंह, मौजूदा मुख्य अग्निशमन अधिकारी

: विजय कुमार राव, सहायक निदेशक, विद्युत सुरक्षा, आशीष कुमार मिश्रा, अवर अभियंता, राजेश कुमार मिश्रा, एसडीओ

: महेंद्र कुमार मिश्रा, पीसीएस, तत्कालीन विहित प्राधिकारी एलडीए, (मौजूदा अपर आयुक्त लखनऊ मंडल)

, : कुमार सिंह, सेवानिवृत्त अधिशासी अभियंता, ओम प्रकाश मिश्रा, सेवानिवृत्त अधिशासी अभियंता
राकेश मोहन, तत्कालीन सहायक अभियंता, जितेंद्र नाथ दुबे, अवर अभियंता, रविन्द्र कुमार श्रीवास्तव, अवर अभियंता, गणेशी दत्त सिंह, सेवानिवृत्त अवर अभियंता, जयवीर सिंह, अवर अभियंता, राम प्रताप, मेट, एलडीए

See also  Transport Problem Became A Hindrance In The Higher Education Of Daughters - बेटियां की उच्च शिक्षा में परिवहन समस्या बनी बाधा

: संतोष कुमार तिवारी, तत्कालीन जिला आबकारी अधिकारी, लखनऊ, अमित कुमार श्रीवास्तव, तत्कालीन आबकारी निरीक्षक सेक्टर-1, जैनेन्द्र उपाध्याय, उप आबकारी आयुक्त, लखनऊ मंडल

विस्तार

सितंबर 2022 को होटल लेवाना सुइट्स में लगी आग से चार के हादसे लिए मंडलायुक्त डॉ. रोशन जैकब और पुलिस आयुक्त एसबी शिरडकर की जांच में 19 अधिकारी, इंजीनियर, कर्मचारी दोषी पाए गए हैं। इनमें से अभी सेवा में एक पीसीएस अधिकारी सहित 15 को शासन ने निलंबित कर दिया है। के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू करा दी गई है। योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर देर रात हादसे के जिम्मेदारों के खिलाफ शासन ने कार्रवाई कर दी।

बृहस्पतिवार की रात को ही मंडलायुक्त व पुलिस आयुक्त ने अपनी जांच रिपोर्ट गृह विभाग को सौंप दी थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर अब मुख्यमंत्री ने हादसे के लिए प्रथम दृष्ट्या दोषी और लापरवाही करने वाले अधिकारियों, इंजीनियरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की है।

अब मुख्यमंत्री के निर्देश पर गृह विभाग, नियुक्ति विभाग, आबकारी विभाग के अधिकारियों को निलंबन कर विभागीय कार्रवाई शुरू करानी होगी। चुके जिम्मेदारों के खिलाफ भी विभागीय नियमों केमुताबिक कार्रवाई की जाएगी। शासन के प्रवक्ता का कहना है कि मुख्यमंत्री ने कार्रवाई के निर्देश जांच रिपोर्ट मिलने के बाद दिए हैं।

चार मौतों के जिम्मेदार :

:
सुशील यादव, तत्कालीन अग्निशमन अधिकारी, अभयभान पांडेय, सेवानिवृत्त मुख्य अग्निशमन अधिकारी, योगेंद्र प्रसाद, अग्निशमन अधिकारी-द्वितीय, विजय कुमार सिंह, मौजूदा मुख्य अग्निशमन अधिकारी

: विजय कुमार राव, सहायक निदेशक, विद्युत सुरक्षा, आशीष कुमार मिश्रा, अवर अभियंता, राजेश कुमार मिश्रा, एसडीओ

: महेंद्र कुमार मिश्रा, पीसीएस, तत्कालीन विहित प्राधिकारी एलडीए, (मौजूदा अपर आयुक्त लखनऊ मंडल)

See also  Sukesh Chandrashekhar 200₹ Crore Extortion Case : Actor Nora Fatehi Questioned Again - एक्ट्रेस नोरा फतेही से 200 करोड़ रुपये वसूली के केस में फिर की गई पूछताछ, 6 घंटे तक हुए सवाल-जवाब

, : कुमार सिंह, सेवानिवृत्त अधिशासी अभियंता, ओम प्रकाश मिश्रा, सेवानिवृत्त अधिशासी अभियंता

राकेश मोहन, तत्कालीन सहायक अभियंता, जितेंद्र नाथ दुबे, अवर अभियंता, रविन्द्र कुमार श्रीवास्तव, अवर अभियंता, गणेशी दत्त सिंह, सेवानिवृत्त अवर अभियंता, जयवीर सिंह, अवर अभियंता, राम प्रताप, मेट, एलडीए

: संतोष कुमार तिवारी, तत्कालीन जिला आबकारी अधिकारी, लखनऊ, अमित कुमार श्रीवास्तव, तत्कालीन आबकारी निरीक्षक सेक्टर-1, जैनेन्द्र उपाध्याय, उप आबकारी आयुक्त, लखनऊ मंडल

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments