Wednesday, October 5, 2022
HomeBreaking NewsUp: Molestation With Teachers In Shamli, Brother Also Beaten Up For Protesting...

Up: Molestation With Teachers In Shamli, Brother Also Beaten Up For Protesting – Up: मंदिर से घर लौट रही दो शिक्षिकाओं के साथ छेड़छाड़, विरोध करने पर भाई से मारपीट

सुनें

प्रदेश के शामली में जन्माष्टमी पर्व पर शुक्रवार देर रात्रि मंदिर से घर लौट रही दो शिक्षिकाओं के साथ छेड़छाड़ को लेकर बवाल हो गया।। परिवार के विरोध करने पर आरोपियों ने हमला कर दिया। शिक्षिकाओं सहित तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। बाद कार्रवाई में लापरवाही बरतने पर शनिवार सुबह पीड़ित के साथ पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए भाजपा नेताओं ने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। आश्वासन पर धरना समाप्त किया गया। पक्ष से भी महिलाओं ने थाने पहुंचकर निष्पक्ष कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढ़े: UP: राकेश टिकैत गाजीपुर बॉर्डर से गिरफ्तार, पुलिस ने थाने में बैठाया, भाकियू कार्यकर्ताओं में रोष

पर युवकों ने भाई पर लाठी डंडों व बेल्टों से किया हमला

जन्माष्टमी पर्व पर कांधला कस्बे के एक मोहल्ला निवासी दो शिक्षिका अपने परिजनों के साथ सूरज कुंड मंदिर में गई थी। आरोप है कि वहां से लौटते समय बीच रास्ते में कुछ युवक हूटिंग व बाइक से स्टंट कर रहे थे। है कि इन युवकों ने शिक्षिकाओं से छेड़छाड़ की व अश्लील फब्तियां कसी।

शिक्षिका के भाई ने विरोध किया तो करीब 20 से 25 युवकों ने लाठी डंडों व बेल्टों से हमला कर दिया। दोनों शिक्षिका व भाई गंभीर रूप से घायल हो गए। को सूचना देने पर आरोपी मौके से फरार हो गए। उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी हालत गंभीर होने पर हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। है कि थाने पर तैनात एसएसआई गजेंद्र भाटी ने कार्रवाई करने की बजाय पीड़ित पक्ष को अभद्र व्यवहार कर भगा दिया। पक्ष में पुलिस के प्रति आक्रोश पनप गया।
का थाने पर प्रदर्शन

See also  Police Searching Mlc Abbas Ansari In Eight State - Abbas Ansari: सुभासपा विधायक अब्बास अंसारी की तलाश में 17 ठिकानों पर दबिश, 12 टीमें तलाश में जुटीं

सुबह पीड़ित पक्ष व्यापारियों व भाजपा नेताओं के साथ थाने पर पहुंचे और कार्रवाई की मांग को लेकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। पर धरना दिए जाने की सूचना पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।

कैराना ने मौके पर पहुंचकर इन लोगों को समझाया, लेकिन यह लोग आरोपियों व कार्रवाई में लापरवाही बरतने वाले एसएसआई गजेंद्र भाटी को थाने से हटाने की मांग को लेकर नारेबाजी करते रहे। मामले की जानकारी एसपी अभिषेक को दी। से वार्ता के बाद सीओ ने धरनारत लोगों को उनकी मांगें पूरी किए जाने का आश्वासन दिया। आश्वासन के बाद धरना समाप्त कर दिया गय।

इस प्रकरण में पीड़ित पक्ष ने सागर, निखिल सहित छह लोगों को नामजद करते हुए 20 -25 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। में सीओ कैराना ने बताया कि तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर तीन लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। उधर, दूसरे पक्ष से महिलाओं ने सीओ से मुलाकात कर बताया कि छेड़छाड़ की वारदात गलत है। पर विवाद हुआ है। में निष्पक्ष जांच की मांग की।

विस्तार

प्रदेश के शामली में जन्माष्टमी पर्व पर शुक्रवार देर रात्रि मंदिर से घर लौट रही दो शिक्षिकाओं के साथ छेड़छाड़ को लेकर बवाल हो गया।। परिवार के विरोध करने पर आरोपियों ने हमला कर दिया। शिक्षिकाओं सहित तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। बाद कार्रवाई में लापरवाही बरतने पर शनिवार सुबह पीड़ित के साथ पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए भाजपा नेताओं ने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। आश्वासन पर धरना समाप्त किया गया। पक्ष से भी महिलाओं ने थाने पहुंचकर निष्पक्ष कार्रवाई की मांग की है।

See also  Portugal health minister steps down after pregnant Indian tourist dies

यह भी पढ़े: UP: राकेश टिकैत गाजीपुर बॉर्डर से गिरफ्तार, पुलिस ने थाने में बैठाया, भाकियू कार्यकर्ताओं में रोष

पर युवकों ने भाई पर लाठी डंडों व बेल्टों से किया हमला

जन्माष्टमी पर्व पर कांधला कस्बे के एक मोहल्ला निवासी दो शिक्षिका अपने परिजनों के साथ सूरज कुंड मंदिर में गई थी। आरोप है कि वहां से लौटते समय बीच रास्ते में कुछ युवक हूटिंग व बाइक से स्टंट कर रहे थे। है कि इन युवकों ने शिक्षिकाओं से छेड़छाड़ की व अश्लील फब्तियां कसी।

शिक्षिका के भाई ने विरोध किया तो करीब 20 से 25 युवकों ने लाठी डंडों व बेल्टों से हमला कर दिया। दोनों शिक्षिका व भाई गंभीर रूप से घायल हो गए। को सूचना देने पर आरोपी मौके से फरार हो गए। उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी हालत गंभीर होने पर हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। है कि थाने पर तैनात एसएसआई गजेंद्र भाटी ने कार्रवाई करने की बजाय पीड़ित पक्ष को अभद्र व्यवहार कर भगा दिया। पक्ष में पुलिस के प्रति आक्रोश पनप गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments