Tuesday, February 7, 2023
HomeEducationUnion Health Minister Mansukh Mandaviya Said Dropout Rate Of Girls From Schools...

Union Health Minister Mansukh Mandaviya Said Dropout Rate Of Girls From Schools Decline Since 2014 – केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री का बयान: लड़कियों के स्कूल छोड़ने की दर में गिरावट, एमबीबीएस सीटों की संख्या भी बढ़ी


केंद्रीय of costs
– फोटो: पीटीआई

ख़बर सुनें

Health Minister Mansukh Mandaviya: केंद्रीय मंत्री मनसुख म म म म इस दौरान उन्होंने कहा कि कि 2014 के से लड़कियों के के के स्कूल छोड़ने की में गिरावट देखी गई गई गई जबकि सीटें दोगुनी दोगुनी हो हैं हैं हैं हैं हैं ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। उन्होंने के क्षेत्र में इस विकास के लिए एनडीए एनडीए सरकार को श्रेय।।।।।।।।। मंडाविया कहा कि मोदी सरकार यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रही है कि देश में डॉक्टरों की जरूरत हो और चिकित्सा शिक्षा इच्छुक बच्चों को विदेश न जाना पड़े।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।

How to earn your money

मंडाविया ने कहा, “एमबीबीएस सीटों की संख्या में 87 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। आठ साल पहले, 53,000 सीटें थीं, जो अब बढ़कर 96,000 हो गई हैं।” इसी अवधि में में, मेडिकल सीटें सीटें सीटें सीटें से से बढ़कर बढ़कर 63,000 हो हैं हैं हैं हैं जो जो जो 105 प्रतिशत वृद्धि है ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। उन्होंने कि मेडिकल मेडिकल कॉलेज भी भी 2014 में 387 बढ़कर 2022 में 648 हो गए हैं।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। मंत्री कहा कि नई शिक्षा नीति नीति (एनईपी) का और समाज के सभी वर्गों में किया किया जा जा रहा ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।।

See also  AIIMS पटना ने बनाया रिकॉर्ड, पहले राउंड की काउंसलिंग में ही भर गईं 73 सीटें - 73 seats at aiims patna have been filled in the first round of counselling of ini cet

How does it work?

उन्होंने कि कोविड कोविड कोविड -19 के भी यह सुनिश्चित करने के लिए पहल पहल की गईं कि कि शिक्षा बाधित न ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। दीक्षा के माध्यम से क्विक रिस्पांस रिस्पांस रिस्पांस (क्यूआर) कोड को स्कैन करके भी पुस पुस पुस पुस पुस पुस पुस पुस पुस ct

2.5 hours a day 4.5 hours a day

मंडाविया कहा कि स्कूलों में लड़कियों की की ड्रॉपआउट दर को को को में शौचालयों ने ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। उन्होंने कहा, “2.5 लाख में में में में में में लाख से अधिक शौचालय बनाए गए गए परिणामस्वरूप परिणामस्वरूप ड्रॉपआउट अनुपात अनुपात अनुपात प्रतिशत प्रतिशत से घटकर घटकर प्तिशत हो गय गय गय गय गय गय गय गयगय है है है है है ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।”

Good

Health Minister Mansukh Mandaviya: केंद्रीय मंत्री मनसुख म म म म इस दौरान उन्होंने कहा कि कि 2014 के से लड़कियों के के के स्कूल छोड़ने की में गिरावट देखी गई गई गई जबकि सीटें दोगुनी दोगुनी हो हैं हैं हैं हैं हैं ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। उन्होंने के क्षेत्र में इस विकास के लिए एनडीए एनडीए सरकार को श्रेय।।।।।।।।। मंडाविया कहा कि मोदी सरकार यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रही है कि देश में डॉक्टरों की जरूरत हो और चिकित्सा के इच्छुक बच्चों को विदेश न जाना पड़े।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।

See also  Jee Main Result 2022 Live Session 2 Results Out At Jeemain.nta.nic.in Know How To Check Marks And Percentile - Jee Main Result 2022: जेईई मेन सेशन-2 परीक्षा के परिणाम जारी हुए, यहां पढ़ें हर लेटेस्ट अपडेट

How to earn your money

मंडाविया ने कहा, “एमबीबीएस सीटों की संख्या में 87 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। आठ साल पहले, 53,000 सीटें थीं, जो अब बढ़कर 96,000 हो गई हैं।” इसी अवधि में में, मेडिकल सीटें सीटें सीटें सीटें से से बढ़कर बढ़कर 63,000 हो हैं हैं हैं हैं जो जो जो 105 प्रतिशत वृद्धि है ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। उन्होंने कि मेडिकल मेडिकल कॉलेज भी भी 2014 में 387 बढ़कर 2022 में 648 हो गए हैं।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। मंत्री कहा कि नई शिक्षा नीति नीति (एनईपी) का और समाज के सभी वर्गों में किया किया जा जा रहा ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।। ।।।।।।।।।

How does it work?

उन्होंने कि कोविड कोविड कोविड -19 के भी यह सुनिश्चित करने के लिए पहल पहल की गईं कि कि शिक्षा बाधित न ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।। दीक्षा के माध्यम से क्विक रिस्पांस रिस्पांस रिस्पांस (क्यूआर) कोड को स्कैन करके भी पुस पुस पुस पुस पुस पुस पुस पुस पुस ct

2.5 hours a day 4.5 hours a day

मंडाविया कहा कि स्कूलों में लड़कियों की की ड्रॉपआउट दर को को को में शौचालयों ने ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। उन्होंने कहा, “2.5 लाख में में में में में में लाख से अधिक शौचालय बनाए गए गए परिणामस्वरूप परिणामस्वरूप ड्रॉपआउट अनुपात अनुपात अनुपात प्रतिशत प्रतिशत से घटकर घटकर प्तिशत हो गय गय गय गय गय गय गय गयगय है है है है है ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।”

See also  Rajasthan rajput parishad trust | शिक्षा के साथ ही व्यापार भी समाज को आगे बढ़ाने का मजबूत आधार स्तंभ


RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments