Sunday, December 4, 2022
HomeEducationRajasthan Politics: Gajendra Singh Shekhawat Attacks Ashok Gehlot Transfer Policy - Rajasthan...

Rajasthan Politics: Gajendra Singh Shekhawat Attacks Ashok Gehlot Transfer Policy – Rajasthan Politics: शेखावत ने किया गहलोत पर हमला, बोले- तबादला नीति ने किया शिक्षा व्यवस्था को चौपट


गजेंद्र सिंह शेखावत ने गहलोत पर साधा निशाना।
– : मीडिया

सुनें

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी को लेकर राज्य सरकार पर तंज कसा। का उदाहरण देते हुए शेखावत ने कहा कि प्रतापगढ़ ही नहीं, समूचे राजस्थान की शिक्षा व्यवस्था को गहलोत सरकार की तबादला नीति ने चौपट कर दिया है।

मंत्री शेखावत ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि स्कूलों की वस्तुस्थिति जाने बिना जयपुर से आदेश जारी किए जा रहे हैं। मंत्री महोदय ने कहने को नई नीति बना ली, लेकिन तय नहीं कर पाए कि तबादले के बाद खाली हुए स्कूलों में शिक्षक कहां से आएंगे? गौरतलब है कि प्रतापगढ़ में उच्च माध्यमिक के 274 विद्यालयों में 70 हजार बच्चों पर 2178 शिक्षकों के पद हैं, लेकिन वर्तमान में यहां 1075 शिक्षक ही हैं। शिक्षकों के बाहर तबादले किए जा रहे हैं। इस कारण जिले में अब तक 6 स्कूलों में तालाबंदी की घटनाएं हो चुकी हैं।

वहीं, सरकारी स्कूलों में शिक्षक दिवस के नाम पर झंडियां बांट कर वसूली पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि के शिक्षा को स्कूलों में शिक्षक या नहीं, इससे लेना-देना नहीं, लेकिन शिक्षक दिवस के नाम पर झंडियां बांटकर वसूली जरूर करनी है I दरअसल, राज्य के सरकारी स्कूलों में बच्चों से झंडियों के नाम पर पांच रुपए लेकर बिना रसीद पांच करोड़ रुपए वसूले गए हैं, जबकि इन स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई ही नहीं, पोषाहार भी मुफ्त है।

विस्तार

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी को लेकर राज्य सरकार पर तंज कसा। का उदाहरण देते हुए शेखावत ने कहा कि प्रतापगढ़ ही नहीं, समूचे राजस्थान की शिक्षा व्यवस्था को गहलोत सरकार की तबादला नीति ने चौपट कर दिया है।

See also  CUET UG 2022 Canceled due to reports of sabotage said UGC Chairman M Jagadesh Kumar

मंत्री शेखावत ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि स्कूलों की वस्तुस्थिति जाने बिना जयपुर से आदेश जारी किए जा रहे हैं। मंत्री महोदय ने कहने को नई नीति बना ली, लेकिन तय नहीं कर पाए कि तबादले के बाद खाली स्कूलों में शिक्षक कहां से आएंगे? गौरतलब है कि प्रतापगढ़ में उच्च माध्यमिक के 274 विद्यालयों में 70 हजार बच्चों पर 2178 शिक्षकों के पद हैं, लेकिन वर्तमान में यहां 1075 शिक्षक ही हैं। शिक्षकों के बाहर तबादले किए जा रहे हैं। इस कारण जिले में अब तक 6 स्कूलों में तालाबंदी की घटनाएं हो चुकी हैं।

वहीं, सरकारी स्कूलों में शिक्षक दिवस के नाम पर झंडियां बांट कर वसूली पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि शिक्षा विभाग को स्कूलों में शिक्षक या नहीं, इससे लेना-देना नहीं, लेकिन शिक्षक दिवस के नाम पर झंडियां बांटकर वसूली जरूर करनी है I दरअसल, राज्य के सरकारी स्कूलों में बच्चों से झंडियों के नाम पर पांच लेकर बिना रसीद पांच करोड़ रुपए वसूले गए हैं, जबकि इन स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई ही नहीं, पोषाहार भी मुफ्त है।


RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments