Friday, September 30, 2022
HomeEducationProtest Outside The Residence Of Minister Of State For Education - शिक्षा...

Protest Outside The Residence Of Minister Of State For Education – शिक्षा राज्यमंत्री के आवास के बाहर प्रदर्शन, नारेबाजी

सुनें

प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह के आवास के बाहर आरक्षित वर्ग के चयनित शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को प्रदर्शन किया। में नियुक्ति की मांग कर रहे थे। प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी भी की। के पिता एटा सांसद राजवीर सिंह राजू ने आवास से निकलकर उनका ज्ञापन लिया और मांगों के प्रति आश्वस्त किया जिसके बाद प्रदर्शन समाप्त हुआ।
को शहर के मैरिस रोड स्थित राज पैलेस के बाहर नियुक्ति की मांग को लेकर सड़क पर सैकड़ों अभ्यर्थी बैठ गए। में नियुक्ति की जाए सहित अन्य नारों की तख्तियां थीं। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि वर्ष 2018 में शिक्षक भर्ती घोटाले में 6800 आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थी को आरक्षण की विसंगतियों के चलते नियुक्ति नहीं दी गई। पहले तो सरकार ने नियुक्ति में घोटाले की बात नहीं मानी, लेकिन बाद में स्वीकार भी किया। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद ने विसंगतियों को सुधारते हुए आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने के पांच जनवरी 2022 को दिए थे, जिसमें नियुक्ति तिथि दी गई थी, लेकिन आदेश के बाद भी आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों नियुक्ति नहीं दी गई i
उन्होंने कहा कि ढाई साल से अधिक समय से अदालत और सड़कों पर अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं, लेकिन बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। के पिता व एटा सांसद राजवीर सिंह ने चयनित अभ्यर्थियों को राज्यमंत्री से मिलवाने के आश्वासन दिया। प्रदर्शनकारियों ने अपना प्रदर्शन खत्म किया। सांसद को ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन में चयनित अभ्यर्थी अंशुमान सिंह, सुमन बघ्ेाल, ममता लोधी, सुनील शाक्य, मोहम्मद आसिफ, आबाद अहमद आदि शामिल रहे। अभ्यर्थियों के प्रदर्शन की खबर पर थाना सिविल लाइंस, क्वार्सी का फोर्स तैनात रहा। सीओ तृतीय श्वेताभ पांडेय आदि मौजूद रहे।

See also  Jamshedpur News: टाटा स्टील में टीवी नरेंद्रन ने किया झंड़ोत्तोलन, स्वास्थ्य, शिक्षा नीति, क्लाइमेंट चेंज व डिजिटलाइजेशन पर कहीं ये बात

प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह के आवास के बाहर आरक्षित वर्ग के चयनित शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को प्रदर्शन किया। में नियुक्ति की मांग कर रहे थे। प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी भी की। के पिता एटा सांसद राजवीर सिंह राजू ने आवास से निकलकर उनका ज्ञापन लिया और मांगों के प्रति आश्वस्त किया जिसके बाद प्रदर्शन समाप्त हुआ।

को शहर के मैरिस रोड स्थित राज पैलेस के बाहर नियुक्ति की मांग को लेकर सड़क पर सैकड़ों अभ्यर्थी बैठ गए। में नियुक्ति की जाए सहित अन्य नारों की तख्तियां थीं। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि वर्ष 2018 में शिक्षक भर्ती घोटाले में 6800 आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थी को आरक्षण की विसंगतियों के चलते नियुक्ति नहीं दी गई। पहले तो सरकार ने नियुक्ति में घोटाले की बात नहीं मानी, लेकिन बाद में स्वीकार भी किया। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद ने विसंगतियों को सुधारते हुए आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने के पांच जनवरी 2022 को दिए थे, जिसमें नियुक्ति तिथि दी गई थी, लेकिन आदेश के बाद भी आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों नियुक्ति नहीं दी गई i

उन्होंने कहा कि ढाई साल से अधिक समय से अदालत और सड़कों पर अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं, लेकिन बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। के पिता व एटा सांसद राजवीर सिंह ने चयनित अभ्यर्थियों को राज्यमंत्री से मिलवाने के आश्वासन दिया। प्रदर्शनकारियों ने अपना प्रदर्शन खत्म किया। सांसद को ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन में चयनित अभ्यर्थी अंशुमान सिंह, सुमन बघ्ेाल, ममता लोधी, सुनील शाक्य, मोहम्मद आसिफ, आबाद अहमद आदि शामिल रहे। अभ्यर्थियों के प्रदर्शन की खबर पर थाना सिविल लाइंस, क्वार्सी का फोर्स तैनात रहा। सीओ तृतीय श्वेताभ पांडेय आदि मौजूद रहे।

See also  ‘COVID-19 has adversely impacted the already distressed early education sector’ – 20 quotes from India’s pandemic struggle

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments