Monday, December 5, 2022
HomeEducationJammu: गांधीनगर अस्पताल में कोआपरेटिव दुकान पर लाखों का बकाया, स्वास्थ्य एवं...

Jammu: गांधीनगर अस्पताल में कोआपरेटिव दुकान पर लाखों का बकाया, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग ने सीएमओ को बनाया जांच अधिकारी

एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रशासनिक सचिव भूपेंद्र कुमार द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि गांधीनगर अस्पताल में मैसर्स सहकारी भंडार कंज्यूमर स्टोर ने पिछले कईं वर्ष से किराया नहीं दिया है। 25 2007 को सरकार ने आदेश जारी कर किराया लेने को कहा था।

s स्वास्थ्य विभाग के सबसे बड़े गांधीनगर अस्पताल में दवाइयों की कोआपरेटिव दुकान ने वर्षों से अस्पताल को किराया नहीं दिया है। इस कारण दुकानदार पर 38 लाख से अधिक का किराया का बकाया हो गया है। स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग ने इसे गंभीरता से लिया है और मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रशासनिक सचिव भूपेंद्र कुमार द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि गांधीनगर अस्पताल में स्थित मैसर्स सहकारी भंडार कंज्यूमर स्टोर ने पिछले से से दुकान का किराया नहीं दिया है। 25 2007 को सरकार ने आदेश जारी कर किराया लेने को कहा था। अब 38,60,740 रुपये किराया बकाया है। मुख्य डा. को इस मामले का जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। एक महीने के भीतर जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है। किराया न लेने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी जांच रिपोर्ट में कार्रवाई की सिफारिश करने और बकाया किराया वसूलने के लिए भी तरीका बताने को कहा गया है।

प्रशासनिक सचिव ने एक अन्य आदेश में मैसर्स सहकारी भंडार कंज्यूमर स्टोर को खाली करवाने के लिए भी प्रक्रिया शुरू की गई है। अस्पताल के चिकित्सा डा. को एस्टेट अधिकारी नियुक्त किया गया है। आदेश में कहा गया है कि यह दुकान अवैध रूप से चल रही है और इसने किराया भी नहीं दिया है। इसे खाली करवाने के लिए प्रक्रिया शुरू की जाए।

See also  "An actual cooking stream"- Sykkuno promises a cooking stream if he fails to get 5 stars on PlateUp!

Edited by: Vikas Abrol

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments