Sunday, December 4, 2022
HomeScience/TechnologyHow A Spyware Work How A Spyware Harmful For You Spyware Types...

How A Spyware Work How A Spyware Harmful For You Spyware Types How To Avoid A Spyware On Your Devices

Spyware: समय में टेक्नॉलजी लोगों के इतने करीब पहुंच गयी है कि वायरस क्या है? को लगभग हर कोई समझता है. ये क्या नुकसान करता है और कैसे करता है इस बारे अभी भी बहुत कम लोग ही जानते हैं. से बहुत जल्दी इसका शिकार भी हो जाते है. आपको वायरस के बारे में से बताने जा हैं. इसके झमेले से काफी हद तक बचे रहें.

है ?

जासूसी है. लगभग हर उन डिवाइसेस में जा सकता है, इंटरनेट से जुडी होती हैं. डिवाइसेस में इंटरनेट का प्रयोग किया जाता है. स्पाइवेयर इसलिए , ये बिना आपसे पूछे आपके मोबाइल, लैपटॉप जैसी डिवाइसेस से आपकी इस जानकारी तक पहुंचता है, जहां से इसे कंट्रोल किया .

शुरुआत कैसे हुई?

News Roles

1995 आस-पास हुई, ये लोगों की 2006 आया. जब इस स्पाइवेयर को Internet Explorer और माइक्रोसॉफ्ट Windows operating system में मौजूद पाया गया. जब इसके कारण Windows operating system में कुछ तकनीकी गड़बड़ियां होने लगी. बाद में microsoft कंपनी ने इसे सही कर लिया था.

?

साधारण वायरस आपके सिस्टम (Computer) को नुकसान पहुँचाने के साथ-साथ फाइलों को करप्ट कर सकता है, लेकिन ये स्पाइवेयर आपकी डिवाइस में मौजूद जानकारी जैसे ऑनलाइन बैंकिंग पासवर्ड, एटीएम कार्ड नंबर, गोपनीय जानकारी वाले जरूरी डाक्यूमेंट्स को थर्ड-पार्टी को भेजता रहता . बहुत बड़ी सुरक्षा में सेंध है. से वायरस को खतरनाक श्रेणी में रखा जाता है.

के प्रकार

ये वाइरस वैसे तो कई तरह के होते हैं लेकिन मुख्य रूप से चार प्रकार के होते हैं-

  • (Adware),
  • सिस्टम मॉनिटर्स (System Monitors),
  • ट्रैकिंग कुकीज़ (Tracking cookies),
  • ट्रोजन्स (Trojan Horses)

क्या ?

इस वाइरस को इजराइल कंपनी Cyberarms Firm NSO Group ने लोगों की डिटेल्स (टेक्स्ट मैसेज, कॉल डिटेल और ) मोबाइल से निकालकर, वायरस भेजने वाले के पास भेजता रहता है. वाइरस के बारे में सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात ये है, वाइरस हवा के जरिये भी को इनफेक्ट कर सकता है. ये वाइरस एंड्रॉइड और एपल के ऑपरेटिंग सिस्टम में आसानी से भेजा जा सकता है.

हमले से कैसे बचे

  • को करें.
  • वाले सोर्सेज से फाइल डाउनलोड ना करें.
  • -अप एडवर्टीजमेंट्स पर क्लिक न करें.
  • का एंटीवायरस सॉफ्टवेयर ही उपयोग करें.

पढ़ें- Anti-pollution mask: ये है रीचार्ज होने वाला एयर प्यूरीफायर मास्क जिसमें लगा है स्पीकर और माइक भी

See also  Millions of Android devices prone to hacking due to GPU bug: Google : The Tribune India
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments