Wednesday, November 30, 2022
HomeEducationeducation Department news | शिक्षा मंत्री के जिले के अधिकारी नहीं कर...

education Department news | शिक्षा मंत्री के जिले के अधिकारी नहीं कर रहे निरीक्षण, प्रदेश में अंतिम पायदान पर

राजसमंद भरतपुर टॉपविभागीय अधिकारियों की ओर से पिछले दिनों प्रदेश भर में किए गए आदर्श विद्यालयों निरीक्षण में राजसमंद जिले की उपलिब्ध सर्वाधिक सर्वाधिक सर्वाधिक फीसदी फीसदी रही है।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। शिक्षा ने प्रदेश के सभी मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी तथा पदेन पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारियों आदर्श और उत्कृष्ट स्कूलाें के निरीक्षण का जिम्मा दिया था।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। इसमें विद्यालयों का निरीक्षण तो पचास प्रतिशत भी नहीं किया गया।।।।।। जबकि विद्यालयों के निरीक्षण में एक मात्र मात्र ie जिले के सीबीईओ ुचि रुचि दिखाई और यहां पर पचास प्रतिशत लक्ष्य अर्जित अा ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ने ने ने ने ने ने ने ने जिले जिले जिले जिले वहीं स्कूलों के निरीक्षण में में भरतपुर जिला 30.07 प्रतिशत के साथ प्रथम स्थमान पर रहा ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।। ।।।।।।।।

निदेशालय दिए निर्देश निर्देश से से कार्यनिरीक्षण की ही पोल खुलने के के बाद अब उप उप निदेशक निदेशक निदेशक निदेशक विद्यालय विद्यालय विद्यालय शिक्षा ने पीईईओ पत्र भेज इस कार्य को गंभीरता लेते प्रतिशत प्रतिशत लक्ष्य अर्जित करने निर्देश हैं।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।

How does it work?

आदर्श और स्कूलों के निरीक्षण में विद्यार्थियों विद्यार्थियों के लिए कक्षा कक्ष की िस्थति िस्थति, रंगरोगन, छात्र के के लिए अलग अलग शौचालय शौचालय शौचालय बिजली बिजली इंटरनेट इंटरनेट मैदान और आइसीटी जैसी बुनियादी को जांचना जांचना।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। है। है। है है है है है है है

See also  Education Minister's Home District Is Far Back In Eduction | शिक्षा मंत्री के घर में पिछड़ी शिक्षा, स्कूलों की रैंकिंग में थर्ड क्लास


RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments