Sunday, December 4, 2022
HomeEducationCbi Arrests Ex Secondary Education Board Chief Kalyanmoy Ganguly In School Jobs...

Cbi Arrests Ex Secondary Education Board Chief Kalyanmoy Ganguly In School Jobs Scam Update – शिक्षक नियुक्ति घोटाला: माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व चेयरमैन गांगुली गिरफ्तार, कई जगह Cbi की छापेमारी

सुनें

घोटाला मामले में पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली को गुरुवार को सीबीआई ने लंबी पूछताछ के बाद देर शाम गिरफ्तार कर लिया। को सीबीआई ने पूछताछ के लिए कोलकाता के निजाम पैलेस स्थित अपने दफ्तर में तलब किया था। दोपहर 12 बजे अपने अधिवक्ता के साथ वहां पहुंचे थे। छह घंटे पूछताछ की गई।

जा रहा है कि इस दौरान वे केंद्रीय जांच एजेंसी के कई सवालों का संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। ओर शिक्षक नियुक्ति घोटाले की जांच के सिलसिले में सीबीआई ने गुरुवार को कोलकाता और दिल्ली में छह जगहों पर छापामारी की। ईडी ने भी गांगुली लंबी पूछताछ कर चुकी है।

है कि कलकत्ता हाई कोर्ट के आदेश पर गठित बाग कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में गांगुली को घोटाले में शामिल बताया था। उसके बाद गत 23 जून को उन्हें माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। शिक्षक नियुक्ति घोटाले में इससे पहले बंगाल के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी, उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी, स्कूल सर्विस कमीशन के पूर्व अध्यक्ष अशोक साहा और सलाहकार शांति प्रसाद सिन्हा की गिरफ्तारी हो चुकी है।

दूसरी ओर, शिक्षक नियुक्ति घोटाले की जांच के सिलसिले में सीबीआई ने गुरुवार को कोलकाता और दिल्ली में छह जगहों पर छापामारी की। के मुताबिक यह छापामारी एक सॉफ्टवेयर कंपनी के कार्यालयों में की गई है। को पता चला है कि शिक्षकों की नियुक्ति से संबंधित रिकार्ड में काफी गड़बड़ी की गई है। सॉफ्टवेयर कंपनी की भूमिका सामने आई है। में यह छापामारी की गई है।

See also  Amrinder Singh Joins Bjp, Merge Punjab Lok Congress - Amrinder Singh: 75 साल में नेताओं को रिटायर करने वाली Bjp को मिले 80 वर्ष के 'कैप्टन', मालवा बेल्ट पर फोकस

बीच पता चला है कि सीबीआई पार्थ को भी अपनी हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहती है। सूत्रों ने बताया कि इस बाबत अलीपुर कोर्ट में आवेदन किया गया है, जिस पर गौर करते हुए अदालत ने प्रेसिडेंसी जेल को पार्थ को शुक्रवार को इस मामले पर सुनवाई के लिए सशरीर अदालत में पेश करने को कहा है।

विस्तार

घोटाला मामले में पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली को गुरुवार को सीबीआई ने लंबी पूछताछ के बाद देर शाम गिरफ्तार कर लिया। को सीबीआई ने पूछताछ के लिए कोलकाता के निजाम पैलेस स्थित अपने दफ्तर में तलब किया था। दोपहर 12 बजे अपने अधिवक्ता के साथ वहां पहुंचे थे। छह घंटे पूछताछ की गई।

जा रहा है कि इस दौरान वे केंद्रीय जांच एजेंसी के कई सवालों का संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। ओर शिक्षक नियुक्ति घोटाले की जांच के सिलसिले में सीबीआई ने गुरुवार को कोलकाता और दिल्ली में छह जगहों पर छापामारी की। ईडी ने भी गांगुली लंबी पूछताछ कर चुकी है।

है कि कलकत्ता हाई कोर्ट के आदेश पर गठित बाग कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में गांगुली को घोटाले में शामिल बताया था। उसके बाद गत 23 जून को उन्हें माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। शिक्षक नियुक्ति घोटाले में इससे पहले बंगाल के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी, उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी, स्कूल सर्विस कमीशन के पूर्व अध्यक्ष अशोक साहा और सलाहकार शांति प्रसाद सिन्हा की गिरफ्तारी हो चुकी है।

See also  भारत में स्कूल स्तर पर बच्चों को रोजगारपर शिक्षा में आ रही हैं बाधाएं: डब्ल्यूईएफ रिपोर्ट - children in india are facing obstacles in education on employment at school level wef report

दूसरी ओर, शिक्षक नियुक्ति घोटाले की जांच के सिलसिले में सीबीआई ने गुरुवार को कोलकाता और दिल्ली में छह जगहों पर छापामारी की। के मुताबिक यह छापामारी एक सॉफ्टवेयर कंपनी के कार्यालयों में की गई है। को पता चला है कि शिक्षकों की नियुक्ति से संबंधित रिकार्ड में काफी गड़बड़ी की गई है। सॉफ्टवेयर कंपनी की भूमिका सामने आई है। में यह छापामारी की गई है।

बीच पता चला है कि सीबीआई पार्थ को भी अपनी हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहती है। सूत्रों ने बताया कि इस बाबत अलीपुर कोर्ट में आवेदन किया गया है, जिस पर गौर करते हुए अदालत ने प्रेसिडेंसी जेल को पार्थ को शुक्रवार को इस मामले पर सुनवाई के लिए सशरीर अदालत में पेश करने को कहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments