Saturday, October 8, 2022
HomeBreaking NewsBKD: 1 लाख का इनामी, किसी ने नहीं देखा चेहरा... उस गैंगस्टर...

BKD: 1 लाख का इनामी, किसी ने नहीं देखा चेहरा… उस गैंगस्टर की कहानी जिससे बृजेश सिंह को है खतरा – bkd mafia don brajesh singh revenge up police price money varanasi ntc

जरायम की दुनिया का बड़ा नाम माफिया डॉन बृजेश सिंह 13 साल बाद जेल से छूट गया है. बृजेश सिंह अब खुली में सांस ले है. साथ पूजा पाठ हो रहा है, अपनों के साथ से वक्त गुजर रहा है. बृजेश सिंह को अभी भी एक ऐसे शख्स से खतरा है जिसके बारे में दुनिया बहुत लेकिन बृजेश सिंह कुछ जानता है.

डॉन बृजेश सिंह को मुख्तार अंसारी से ज्यादा शख्स से खतरा है जिसके पर उत्तर प्रदेश पुलिस रखा तक उत्तर प्रदेश पुलिस के पास नहीं है. शातिर दिमाग गैंगस्टर बीकेडी से सिंह को खतरा लगता है.

हैं BKD नाम का अपराधी?

BKD, अपराधियों में एक ऐसा नाम है जो लंबे से एक पहेली बना हुआ है. सिर्फ नाम सुना गया देखा किसी ने नहीं, पुरानी तस्वीर पुलिस के पास नहीं. वाराणसी पुलिस से लेकर यूपी एसटीएफ तक भले ही अंतरराष्ट्रीय माफियाओं की कुंडली जानती हो लेकिन वाराणसी का ही रहने अब तक कुछ नहीं जानती. साल 2011 अजय खलनायक पर हुआ हमले का हो या फिर जुलाई भाई सतीश सिंह की , इन दोनों ही सनसनीखेज हत्याकांड में बीकेडी आया लेकिन तक नहीं गया.

हुई ?

बृजेश सिंह की दुश्मनी दशकों पुरानी है. सिंह के पिता रविंद्र नाथ सिंह की हत्या में पांचू सिंह और सिंह किए गए थे. पिता की हत्या का बदला के लिए के रास्ते पर चलने वाले सिंह ने पांचू सिंह हरिहर और चचेरे बड़े भाई बनारसी सिंह की हत्या कर दी. 10 1999 को वाराणसी पुलिस ने पांचू सिंह और उसके साथी का एनकाउंटर कर दिया.

See also  बारिश से बेहाल कर्नाटक, घर-दुकान से दफ्तर तक सब पानी-पानी, बाढ़ में डूबा IT हब बेंगलुरु - Bengaluru heavy rainfall Massive water logging and traffic jam IMD Rain alert Karnataka weather forecast flood situation Bengaluru mausam lbs

सिंह के कट्टर विरोधी में हरिहर सिंह का नाम भी गिना जाता था. सिंह के पांच लड़के थे, सिंह उर्फ ​​​​ , सिंह उर्फ ​​​​ , सिंह उर्फ ​​​​ नाथ .

बृजेश सिंह गुट पर काम करने वाले एक रिटायर्ड अधिकारी ने साफ बताया रंजिश की शुरुआत ब्रजेश सिंह के पिता के समय से हुई. ब्रजेश सिंह के पिता रविंद्र नाथ सिंह ने हरिहर सिंह और उसके बेटे पांचू सिंह की जमकर पिटाई कर दी थी. में जब रविंद्र सिंह की हत्या हुई उसमें नाम हरिहर सिंह और सिंह का आया जिसके पिता की के लिए ने हरिहर सिंह की थी.

की हत्या में भी आया था नाम

कर बीकेडी उर्फ ​​​​ सिंह की करें तो हरिहर सिंह चार लड़कों में बीकेडी तीसरे नंबर पर है. पांचू सिंह का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया. अन्य भाई सत्यदेव सिंह और सिद्धार्थ नाथ सिंह मुंबई की शिपिंग कंपनी में नौकरी करते हैं. की शादी वाराणसी से सटे के बक्सर में हुई है. दो बेटियां हैं जो अपने चाचा के पास मुंबई पढ़ाई कर रही हैं.

बीकेडी अपने बड़े पांचू सिंह के एनकाउंटर में भी बृजेश सिंह को ही मानता है और इसीलिए कृष्णानंद भी चर्चा थी कि बीकेडी इस हत्याकांड में शामिल था. पर मौजूदा वक्त उत्तर प्रदेश पुलिस ने लाख का इनाम घोषित कर है लेकिन बीकेडी को नहीं पास बीकेडी की कोई सही तस्वीर है.

रिहा हुआ बृजेश सिंह

वाराणसी सेंट्रल जेल में 13 साल तक रहने के बाद बृजेश सिंह अब जेल से रिहा हो चुका है. अपनी एमएलसी पत्नी और विधायक भतीजे सिंह के साथ आम जीवन कर रहे हैं लेकिन आज सिंह की निगाहें उस हैं जिसे सिर्फ वही पहचानता है, जिसे सिर्फ उसने ही देखा है सिंह मुख्तार . बांदा जेल में है.

See also  'If you aren't in form and not scoring runs...': Gavaskar's warning to KL Rahul | Cricket

समीकरणों के चलते मुख्तार अंसारी गैंग लगभग हो चुका है. बजरंगी, मेराज, संजीव जीवा माहेश्वरी, राकेश पांडे जैसे तमाम वफादार या तो मारे गए या फिर सलाखों के पीछे हैं. सिंह अपनी राजनीतिक पैठ के चलते आज मुख्तार अंसारी पर भारी है. में बृजेश सिंह किसी से खतरा तो वह सिर्फ बीकेडी उर्फ ​​​​ से जिसे कोई शायद भी खुली बाहर आया तो उनिगाहें हैं. वफादारों की फौज सुरक्षा घेरे में लिए रहती है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments