Saturday, December 3, 2022
HomeEducationBjp Vs Aap Continues As Arvind Kejriwal Claims Cbi Cleanchit To Manish...

Bjp Vs Aap Continues As Arvind Kejriwal Claims Cbi Cleanchit To Manish Sisodia Saffron Party Calls Corruption – Aap Vs Bjp: भाजपा ने शिक्षा-शराब को केजरीवाल के भ्रष्टाचार का ट्विन टावर बताया, सीएम ने Cbi को लेकर किए दावे

सुनें

और स्वास्थ्य में हुए कथित घोटाले के मुद्दे पर भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच मंगलवार को भी घमासान जारी रहा। ने आरोप लगाया है कि शिक्षा और स्वास्थ्य के नाम पर दिल्ली सरकार ने भ्रष्टाचार के ट्विन टॉवर खड़े कर लिए थे जिससे काली कमाई की जा रही थी। ने अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को भ्रष्टाचार के इस ट्विन टॉवर का निर्माता बताया है। वहीं, अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि सीबीआई को मनीष सिसोदिया के खिलाफ भ्रष्टाचार का कोई सबूत नहीं मिला है। उनकी सत्यनिष्ठा प्रमाणित हो गई है और इसलिए अब दिल्ली सरकार को जनता का काम करने की छूट मिलनी चाहिए।

हालांकि, मंगलवार को ही अन्ना हजारे की चिट्ठी ने अरविंद केजरीवाल को बैकफुट पर ला दिया। हजारे ने अरविंद केजरीवाल पर सत्ता के नशे में आंदोलन के रास्ते से भटकने का आरोप लगाया। कहा कि आंदोलन से एक ऐसा विकल्प तेयार करने की बात की गई थी जो सरकारों पर दबाव डालकर उनसे जनता के पक्ष में उचित कानून बनाने का दबाव डाल सके। अरविंद केजरीवाल सत्ता पाने के बाद वही काम करने लगे जो बाकी की सरकारें करती रही हैं। दिल्ली सरकार की शराब नीति पर गंभीर सवाल उठाकर केजरीवाल पर बड़ा हमला किया।

‘भ्रष्टाचार के ट्विन टॉवर’
भाजपा मंगलवार को भी शराब-शिक्षा मामले में हुए कथित भ्रष्टाचार के मुददे पर हमलावर रही। ने अरविंद केजरीवाल के आवास के बाहर प्रदर्शन किया औऱ शराब और शिक्षा क्षेत्र में हुए कथित भ्रष्टाचार के कारण मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग करती रही। के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहजाद पूनावाला ने प्रेस कांफ्रेंस कर आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार ने शिक्षा और स्वास्थ्य के नाम पर राजधानी में भ्रष्टाचार का मॉडल खड़ा कर दिया। कहा कि यह उसी तरह से भ्रष्टाचार का ट्विन टॉवर बन गया जिस तरह नोएडा में भ्रष्टाचार का उपयोग करके बड़ी इमारत खड़ी कर दी गई थी। उन्होंने कहा कि जिस तरह नोएडा में भ्रष्टाचार का ट्विन टॉवर गिराया गया, उसी तरह अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के द्वारा खड़ा किया गया यह ट्विन टॉवर गिराया जाना जरूरी है।

See also  The Institution Will Provide Free Higher Education To Economically Weak Students - आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को निशुल्क उच्च शिक्षा प्रदान करेगी संस्था

शाहजाद पूनावाला ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने लोगों को पाठशाला देने का वायदा किया था, लेकिन सत्ता में आने के बाद वे लोगों को मधुशाला बांटने लगे। आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल के मन में विकास का कोई खाका नहीं था और अब उसकी असलियत सामने आ गई है। उन्होंने कहा कि तरह-तरह के आरोप लगाकर आम आदमी पार्टी जनता का ध्यान हटाना चाहती है, लेकिन उन्हें इन सवालों के जवाब देने पड़ेंगे कि टॉयलेट को क्लासरूम कैसे बता दिया गया।

‘सीबीआई को कुछ नहीं मिला-केजरीवाल’
मंगलवार सुबह ही सीबीआई के अधिकारी मनीष सिसोदिया के बैंक लॉकरों की जांच करने के लिए उनके बैंक पहुंच गए थे। मनीष सिसोदिया ने सोमवार को ही दावा किया था कि सीबीआई को बैंक लॉकर्स में कुछ नहीं मिलना है, लेकिन यदि वे चाहते हैं कि इनकी जांच की जाए तो वे इसका स्वागत करते हैं। मनीष सिसोदिया के बैंक लॉकरों की सीबीआई के द्वारा जांच के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सीबीआई को मनीष सिसोदिया के आवास पर छापेमारी के बाद भी कुछ नहीं मिला था। भी बैंक लॉकरों की जांच के बाद सीबीआई को कुछ नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि अब मनीष सिसोदिया की ईमानदारी पर कोई संदेह नहीं रह गया है, लिहाजा दिल्ली सरकार को अब जनता का काम करने की छूट मिलनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि भाजपा आरोप लगा रही है कि दिल्ली में इतने सरकारी स्कूल क्यों बनाए, इतने क्लासरूप क्यों बनाए और इनमें इतनी सुविधाएं क्यों दी गईं। कहा कि हम देश के बच्चों को सबसे अच्छी शिक्षा देना चाहते हैं और इसलिए पार्टी का इस तरह का प्रयास जारी रहेगा।

See also  garmin venu sq 2 series Launched in India check price and all details - Tech news hindi

विस्तार

और स्वास्थ्य में हुए कथित घोटाले के मुद्दे पर भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच मंगलवार को भी घमासान जारी रहा। ने आरोप लगाया है कि शिक्षा और स्वास्थ्य के नाम पर दिल्ली सरकार ने भ्रष्टाचार के ट्विन टॉवर खड़े कर लिए थे जिससे काली कमाई की जा रही थी। ने अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को भ्रष्टाचार के इस ट्विन टॉवर का निर्माता बताया है। वहीं, अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि सीबीआई को मनीष सिसोदिया के खिलाफ भ्रष्टाचार का कोई सबूत नहीं मिला है। उनकी सत्यनिष्ठा प्रमाणित हो गई है और इसलिए अब दिल्ली सरकार को जनता का काम करने की छूट मिलनी चाहिए।

हालांकि, मंगलवार को ही अन्ना हजारे की चिट्ठी ने अरविंद केजरीवाल को बैकफुट पर ला दिया। हजारे ने अरविंद केजरीवाल पर सत्ता के नशे में आंदोलन के रास्ते से भटकने का आरोप लगाया। कहा कि आंदोलन से एक ऐसा विकल्प तेयार करने की बात की गई थी जो सरकारों पर दबाव डालकर उनसे जनता के पक्ष में उचित कानून बनाने का दबाव डाल सके। अरविंद केजरीवाल सत्ता पाने के बाद वही काम करने लगे जो बाकी की सरकारें करती रही हैं। दिल्ली सरकार की शराब नीति पर गंभीर सवाल उठाकर केजरीवाल पर बड़ा हमला किया।

‘भ्रष्टाचार के ट्विन टॉवर’

भाजपा मंगलवार को भी शराब-शिक्षा मामले में हुए कथित भ्रष्टाचार के मुददे पर हमलावर रही। ने अरविंद केजरीवाल के आवास के बाहर प्रदर्शन किया औऱ शराब और शिक्षा क्षेत्र में हुए कथित भ्रष्टाचार के कारण मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग करती रही। के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहजाद पूनावाला ने प्रेस कांफ्रेंस कर आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार ने शिक्षा और स्वास्थ्य के नाम पर राजधानी में भ्रष्टाचार का मॉडल खड़ा कर दिया। कहा कि यह उसी तरह से भ्रष्टाचार का ट्विन टॉवर बन गया जिस तरह नोएडा में भ्रष्टाचार का उपयोग करके बड़ी इमारत खड़ी कर दी गई थी। उन्होंने कहा कि जिस तरह नोएडा में भ्रष्टाचार का ट्विन टॉवर गिराया गया, उसी तरह अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के द्वारा खड़ा किया गया यह ट्विन टॉवर गिराया जाना जरूरी है।

See also  OnePlus Nord CE 2 5G पर मिल रहा बंपर डिस्काउंट, Amazon Sale में करें ऑर्डर - buy oneplus nord ce 2 under bumper discount order amazon sale

शाहजाद पूनावाला ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने लोगों को पाठशाला देने का वायदा किया था, लेकिन सत्ता में आने के बाद वे लोगों को मधुशाला बांटने लगे। आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल के मन में विकास का कोई खाका नहीं था और अब उसकी असलियत सामने आ गई है। उन्होंने कहा कि तरह-तरह के आरोप लगाकर आम आदमी पार्टी जनता का ध्यान हटाना चाहती है, लेकिन उन्हें इन सवालों के जवाब देने पड़ेंगे कि टॉयलेट को क्लासरूम कैसे बता दिया गया।

‘सीबीआई को कुछ नहीं मिला-केजरीवाल’

मंगलवार सुबह ही सीबीआई के अधिकारी मनीष सिसोदिया के बैंक लॉकरों की जांच करने के लिए उनके बैंक पहुंच गए थे। मनीष सिसोदिया ने सोमवार को ही दावा किया था कि सीबीआई को बैंक लॉकर्स में कुछ नहीं मिलना है, लेकिन यदि वे चाहते हैं कि इनकी जांच की जाए तो वे इसका स्वागत करते हैं। मनीष सिसोदिया के बैंक लॉकरों की सीबीआई के द्वारा जांच के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सीबीआई को मनीष सिसोदिया के आवास पर छापेमारी के बाद भी कुछ नहीं मिला था। भी बैंक लॉकरों की जांच के बाद सीबीआई को कुछ नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि अब मनीष सिसोदिया की ईमानदारी पर कोई संदेह नहीं रह गया है, लिहाजा दिल्ली सरकार को अब जनता का काम करने की छूट मिलनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि भाजपा आरोप लगा रही है कि दिल्ली में इतने सरकारी स्कूल क्यों बनाए, इतने क्लासरूप क्यों बनाए और इनमें इतनी सुविधाएं क्यों दी गईं। कहा कि हम देश के बच्चों को सबसे अच्छी शिक्षा देना चाहते हैं और इसलिए पार्टी का इस तरह का प्रयास जारी रहेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments