Saturday, December 10, 2022
HomeEducationA Composite School For Each Block Will Become The Ideal - हर...

A Composite School For Each Block Will Become The Ideal – हर ब्लॉक का एक कंपोजिट स्कूल बनेगा सर्वश्रेष्ठ

सुनें

(अमेठी)। नौनिहालों को गुणवत्तापरक तरीके से शिक्षित करने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग सभी ब्लॉक के एक-एक कंपोजिट स्कूल को सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के रूप में विकसित करेगा। स्कूलों का चयन किया जा रहा है। चयन के बाद आधुनिक अवस्थापना की सुविधा से लैस करते हुए हाईटेक विधि से नौनिहालों को कक्षा एक से आठ तक शिक्षित किया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के रूप में तैयार विद्यालय अन्य स्कूलों के साथ निजी स्कूलों के लिए भी प्रेरणा का स्रोत बनेंगे।
बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से जिले में 1139 प्राथमिक, 234 उच्च प्राथमिक व 197 कंपोजिट परिषदीय स्कूल संचालित किए जाते हैं। संचालित स्कूलों में शैक्षिक सत्र 2022-23 में 2.06 लाख बच्चे पंजीकृत हैं। नई शिक्षा नीति के तहत जिले में संचालित 197 कंपोजिट स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से आधुनिक सुविधाओं से लैस करते हुए बेसिक शिक्षा विभाग सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के रूप में तैयार करने की कोशिश में जुटा है। विद्यालय में एक ही परिसर में कक्षा एक से आठ तक विद्यार्थियों को बेहतर शैक्षणिक परिवेश उपलब्ध कराते हुए उनकी शैक्षिक व बौद्धिक क्षमता में वृद्धि की जाएगी।
इसके लिए महानिदेशक स्कूल शिक्षा एवं राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने बीएसए से पहले चरण में सभी ब्लॉकों के एक-एक कंपोजिट स्कूल का चयन कर प्रस्ताव भेजने को कहा है। प्रस्ताव मिलने के बाद गैप एनालिसिस एवं नीड असेसमेंट के आधार पर अत्याधुनिक अवस्थापना सुविधा (कप्यूटर लैब, साइंस लैब, लाइब्रेरी व स्मार्ट ) से लैस करते हुए छात्र-छात्राओं को आधुनिक शैक्षणिक परिवेश में शिक्षित किया जाएगा। स्कूलों में विद्यार्थियों को शिक्षित करने के साथ ही उनका बौद्धिक एवं शारीरिक विकास करने की दिशा में काम किया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ विद्यालय संचालित होने के बाद कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को शिक्षा निजी स्कूलों से बेहतर मिलेगी तो आधुनिक कंप्यूटर ज्ञान के साथ स्क्रीन पर शिक्षण कार्य करने की सुविधा मिलेगी। में जहां बच्चों का बौद्धिक विकास होगा वहीं स्कूल में शिक्षा के साथ संचालित अन्य गतिविधियों से उनके शारीरिक विकास में भी मदद मिलेगी।
में होगी ये सुविधा
प्रस्ताव मंजूर होने के बाद सर्वश्रेष्ठ विद्यालय में शिक्षण कक्ष के साथ प्रसाधन युक्त स्टाफ रूम, कंप्यूटर कक्ष, विज्ञान प्रयोगशाला व स्मार्ट क्लास, लाइब्रेरी व प्रयोगशाला का निर्माण होगा। तकनीकी के आधार पर स्मार्ट क्लास के साथ ही पुस्तकालय व विज्ञान प्रयोगशाला व कंप्यूटर रूप में बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने का अवसर मिलेगा। स्कूल में शैक्षिक के साथ खेलकूद संबंधी मल्टी डायमेंशनल और मल्टी स्केल स्पेस पक्का डाइनिंग हॉल, , हाथ और डिश वॉश यूनिट व यूटिलिटी यार्ड का भी निर्माण होगा। पर्यावरण अनुकूल पानी व प्रसाधन के साथ साइकिल स्टैंड, किचन गार्डेन तथा पठन-पाठन के लिए आयु वर्ग के अनुसार डेस्क बेंच तथा शिक्षण सामग्री व शिक्षकों की तैनाती की जाएगी।
भेजा प्रस्ताव प्रस्ताव
बीएसए संगीता सिंह ने बताया कि सभी बीईओ को पत्र जारी कर सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के लिए एक-एक कंपोजिट स्कूल का चयन करने को कहा गया है। स्कूल के उच्चीकरण के लिए प्रस्तावित कार्यों के साथ ले आउट प्लान तैयार कर प्रेरणा पोर्टल पर अपलोड करने को कहा गया है। के बाद शासन से धनराशि मिलने पर स्कूल में प्रस्तावित कार्य पूरा कर अत्याधुनिक सुविधा से लैस करते हुए शिक्षण कार्य किया जाएगा।

See also  Education In UP: योगी आद‍ित्‍यनाथ सरकार का श‍िक्षा पर फोकस, प्रदेश में जल्द खुलेंगे नए 91 प्राथमिक विद्यालय

(अमेठी)। नौनिहालों को गुणवत्तापरक तरीके से शिक्षित करने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग सभी ब्लॉक के एक-एक कंपोजिट स्कूल को सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के रूप में विकसित करेगा। स्कूलों का चयन किया जा रहा है। चयन के बाद आधुनिक अवस्थापना की सुविधा से लैस करते हुए हाईटेक विधि से नौनिहालों को कक्षा एक से आठ तक शिक्षित किया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के रूप में तैयार विद्यालय अन्य स्कूलों के साथ निजी स्कूलों के लिए भी प्रेरणा का स्रोत बनेंगे।

बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से जिले में 1139 प्राथमिक, 234 उच्च प्राथमिक व 197 कंपोजिट परिषदीय स्कूल संचालित किए जाते हैं। संचालित स्कूलों में शैक्षिक सत्र 2022-23 में 2.06 लाख बच्चे पंजीकृत हैं। नई शिक्षा नीति के तहत जिले में संचालित 197 कंपोजिट स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से आधुनिक सुविधाओं से लैस करते हुए बेसिक शिक्षा विभाग सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के रूप में तैयार करने की कोशिश में जुटा है। विद्यालय में एक ही परिसर में कक्षा एक से आठ तक विद्यार्थियों को बेहतर शैक्षणिक परिवेश उपलब्ध कराते हुए उनकी शैक्षिक व बौद्धिक क्षमता में वृद्धि की जाएगी।

इसके लिए महानिदेशक स्कूल शिक्षा एवं राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने बीएसए से पहले चरण में सभी ब्लॉकों के एक-एक कंपोजिट स्कूल का चयन कर प्रस्ताव भेजने को कहा है। प्रस्ताव मिलने के बाद गैप एनालिसिस एवं नीड असेसमेंट के आधार पर अत्याधुनिक अवस्थापना सुविधा (कप्यूटर लैब, साइंस लैब, लाइब्रेरी व स्मार्ट ) से लैस करते हुए छात्र-छात्राओं को आधुनिक शैक्षणिक परिवेश में शिक्षित किया जाएगा। स्कूलों में विद्यार्थियों को शिक्षित करने के साथ ही उनका बौद्धिक एवं शारीरिक विकास करने की दिशा में काम किया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ विद्यालय संचालित होने के बाद कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को शिक्षा निजी स्कूलों से बेहतर मिलेगी तो आधुनिक कंप्यूटर ज्ञान के साथ स्क्रीन पर शिक्षण कार्य करने की सुविधा मिलेगी। में जहां बच्चों का बौद्धिक विकास होगा वहीं स्कूल में शिक्षा के साथ संचालित अन्य गतिविधियों से उनके शारीरिक विकास में भी मदद मिलेगी।

में होगी ये सुविधा

प्रस्ताव मंजूर होने के बाद सर्वश्रेष्ठ विद्यालय में शिक्षण कक्ष के साथ प्रसाधन युक्त स्टाफ रूम, कंप्यूटर कक्ष, विज्ञान प्रयोगशाला व स्मार्ट क्लास, लाइब्रेरी व प्रयोगशाला का निर्माण होगा। तकनीकी के आधार पर स्मार्ट क्लास के साथ ही पुस्तकालय व विज्ञान प्रयोगशाला व कंप्यूटर रूप में बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने का अवसर मिलेगा। स्कूल में शैक्षिक के साथ खेलकूद संबंधी मल्टी डायमेंशनल और मल्टी स्केल स्पेस पक्का डाइनिंग हॉल, , हाथ और डिश वॉश यूनिट व यूटिलिटी यार्ड का भी निर्माण होगा। पर्यावरण अनुकूल पानी व प्रसाधन के साथ साइकिल स्टैंड, किचन गार्डेन तथा पठन-पाठन के लिए आयु वर्ग के अनुसार डेस्क बेंच तथा शिक्षण सामग्री व शिक्षकों की तैनाती की जाएगी।

भेजा प्रस्ताव प्रस्ताव

बीएसए संगीता सिंह ने बताया कि सभी बीईओ को पत्र जारी कर सर्वश्रेष्ठ विद्यालय के लिए एक-एक कंपोजिट स्कूल का चयन करने को कहा गया है। स्कूल के उच्चीकरण के लिए प्रस्तावित कार्यों के साथ ले आउट प्लान तैयार कर प्रेरणा पोर्टल पर अपलोड करने को कहा गया है। के बाद शासन से धनराशि मिलने पर स्कूल में प्रस्तावित कार्य पूरा कर अत्याधुनिक सुविधा से लैस करते हुए शिक्षण कार्य किया जाएगा।

See also  Tamil Nadu Announces Holiday For Education Institutions On Oct 25 On Diwali - Diwali 2022: तमिलनाडु में 25 अक्तूबर को शिक्षण संस्थानों की रहेगी छुट्टी, स्टालिन सरकार ने की घोषणा


RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments