Sunday, September 25, 2022
HomeEducationहिमाचल में अब स्कूल वाहनों में ओवरलोडिंग पर शिक्षा विभाग भी रखेगा...

हिमाचल में अब स्कूल वाहनों में ओवरलोडिंग पर शिक्षा विभाग भी रखेगा नजर, नियमित चेकिंग करेंगे अधिकारी

s Himachal Education Department, हिमाचल प्रदेश में स्कूल बसों में नियमों की अवहेलना करने वालों पर शिक्षा विभाग ने कसना कर कर है। स्कूल बस, टेंपो ट्रैवलर, वैन सहित अन्य वाहनों में ओवर लोडिंग व अन्य नियमों का पालन हुआ है या नहीं इस पर शिक्षा विभाग भी नजर रखेगा। शिक्षा विभाग के निदेशक ने उपनिदेशक को पत्र लिखा है। कि स्कूल बसों की नियमित चेकिंग करें। ने शिक्षा विभाग को इस संबंध में पत्र जारी किया था। परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के निर्देशों का हवाला दिया था।

ने उपनिदेशकों को कहा है कि वे अपने स्तर पर भी निगरानी रखें। वाहन चाहे निजी स्कूल का हो या सरकारी स्कूल का इस पर पूरी नजर रखी जाए। क्षमता के अनुसार ही बच्चों को बिठाएं यह सुनिश्चित करें। वाहनों के अंदर व बाहर यह भी लिखना होगा कि वाहन में कितने लोगों के बैठने की क्षमता है। कितने बच्चे इसमें बैठ सकते हैं, ताकि अभिभावकों को इसकी जानकारी मिल सके। ओवर लोडिंग करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और परमिट भी रद कर दिया जाएगा।

टीम ने इस साल अप्रैल के पहले सप्ताह में राज्य के विभिन्न क्षेत्रों का दौरा किया था। सुझाव में कहा था कि इसकी नियमित निगरानी होनी चाहिए। को बसें चलाने से पहले इनकी पासिंग करवाना अनिवार्य होगा। व फिटनेस सर्टिफिकेट के बाद ही निजी स्कूलों को बस चलाने की अनुमति मिलेगी। बिना स्पीड गवर्नर के पास नहीं किया जाएगा। ग्रिल भी लगानी होगी। सीसीटीवी कैमरा व जीपीएस लगाना भी अनिवार्य किया है। स्कूल प्रबंधकों को अपनी व हायर की गई बसों पर गहरा पीला रंग सहित स्कूल का नाम, आगे और पीछे स्कूल बस व आन स्कूल ड्यूटी लिखना अनिवार्य होगा।

See also  गांव के एक बंदे ने ट्रक को बनाया चलता-फिरता मैरिज हॉल, आनंद महिंद्रा बोले- 'मिलना है मुझे' - A fellow trucker of the village made a moving marriage hall, Anand Mahindra said

उच्चतर शिक्षा विभाग अशोक शर्मा का कहना है निदेशालय से पत्र प्राप्त हुआ है। को भी निर्देश दिए हैं कि हर वाहन मालिक को निर्देश दें कि नियमों का पालन करें। की चेकिंग की जाएगी।

Edited by: Rajesh Kumar Sharma

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments