Thursday, October 6, 2022
HomeEducationसिसोदिया पर CBI के एक्शन के बीच AAP का ट्वीट, अच्छी शिक्षा...

सिसोदिया पर CBI के एक्शन के बीच AAP का ट्वीट, अच्छी शिक्षा देने से नहीं रोक पाओगे मोदीजी – Amidst CBI action on Manish Sisodia AAP tweeted Modiji will not be able to stop giving good education ntc

की आम आदमी पार्टी केंद्रीय जांच एजेंसियों ने चौतरफा शिकंजा कस दिया है. सत्येंद्र जैन और अब डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया जांच में आ गए हैं. सीबीआई ने दो दिन पहले सिसोदिया के घर छापा मारा और 14 घंटे तक तलाशी ली. कि दिल्ली सरकार ने शराब घोटाला किया है. सिसोदिया से जुड़े बताए जा रहे हैं. ऐसे में अब MONKEY ने भी केंद्र सरकार की घेराबंदी की तैयारी शुरू कर दी है.

आदमी पार्टी के ऑफिशियल ट्वीटर से एक किया गया है. तौर पर केंद्र सरकार को घेरा गया है. ही पीएम मोदी पर तंज कसा है. MONKEY जो पोस्टर शेयर किया है, उसमें एक बच्ची पार्क में बैठकर पढ़ रही है. दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया पीछे घुटनों बल बैठे हैं और हाथ से कलम दे रहे तो दूसरे हाथ में एक हैं.

‘अच्छी शिक्षा देने से नहीं रोक पाओगे मोदीजी’

इस छाते पर दिल्ली एजुकेशन मॉडल लिखा है. जांच एजेंसियों के तीर लगे देखे जा रहे हैं. तीर जमीन पर हैं. सिसोदिया के दोनों घुटनों में लगे दिख रहे हैं. इस पोस्टर पर MONKEY ने कैप्शन में लिखा है- ‘देश के हर बच्चे को अच्छी शिक्षा देने से हमें नहीं रोक पाओगे मोदी जी.’

‘जिस दिन तारीफ छपी, उसी दिन सिसोदिया के घर रेड’

, केंद्रीय जांच एजेंसियों की कार्रवाई पर दिल्ली के सीएम लगातार सवाल उठा रहे हैं. आरोप लगाया है कि अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स जिस दिन दिल्ली के स्कूलों तारीफ में रिपोर्ट , उसी दिन केंद्र ने उपमुख्यमंत्री सिसोदिया के पर सीबीआई की रेड है. सीएम केजरीवाल ने कर कहा कि जिस न्यूयॉर्क टाइम्स के फ्रंट पेज पर दिल्ली शिक्षा मॉडल की तारीफ सिसोदिया की तस्वीर गई, उसी दिन केंद्र ने मनीष के घर CBI भेज दी.

See also  Orders For Schools To Respond To Rti On Time - स्कूलों को आरटीआई का समय पर जवाब देने के आदेश

दें कि न्यूयॉर्क टाइम्स के इंटरनेशनल वर्जन के फ्रंट पेज पर आम आदमी पार्टी सरकार के मॉडल को लेकर एक रिपोर्ट छपी है. रिपोर्ट को ‘अवर चिल्ड्रन आर वर्थ इट’ शीर्षक दिया गया है. के लिए इस रिपोर्ट को एक दिल्ली बेस्ड पत्रकार सिंह ने लिखा है.

स्कूलों के हालात बदल रहे हैं…

रिपोर्ट में लिखा है कि भारत में जहां लाखों परिवार गरीबी दूर करने के लिए शिक्षा की ओर देख रहे हैं, वहां के स्कूलों की लंबे समय से जर्जर इमारतों, , खराब शिक्षा और यहां तक ​​​​​​कि दूषित लंच देने वाली रेपुटेशन रही है , हालात गए हैं. दिल्ली के सरकारी स्कूलों में साल 2014 में 10वीं और 12वीं के बच्चों के पास होने का आंकड़ा 89 और 82 परसेंट थे, वो पिछले साल पूरा 100 फीसदी रहा.


RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments