Thursday, September 29, 2022
HomeEducationशिक्षा विभाग में भरे जाएंगे 1927 पद, 1935 पर चल रही भर्ती...

शिक्षा विभाग में भरे जाएंगे 1927 पद, 1935 पर चल रही भर्ती प्रक्रिया

शिक्षा मंत्री ने सदन में दी जानकारी, कहा स्कूलों को मिलेंगे जल्द ही 800 शिक्षक


I शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर (Minister of Education Govind Singh Thakur) ने हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र के तीसरे दिन सदन में बताया कि प्रदेश में जेबीटी के 1935 पदों पर भर्ती प्रक्रिया चल रही है। 1468 जाएंगे। इसके अलावा शिक्षा विभाग (Education Department) ने 1927 पदों को भरने की मंजूरी का मामला भी वित्त विभाग को भेजा है। इसमें 800 पदों पर भर्ती प्रक्रिया कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से जल्द की जाएगी। शिक्षा मंत्री ने बताया कि जेबीटी की भर्ती (JBT Recruitment) होते ही उन्हें प्राथमिकता के आधार पर उन स्कूलों में तैनात किया जाएगा, जहां कोई भी शिक्षक नहीं है या फिर एक-एक अध्यापक है। शिक्षा मंत्री ने बताया कि प्रदेश में जेबीटी के 4009 पद, एचटी के 371 पद और सीएचटी के 125 पद खाली पड़े है। का मामला हाईकोर्ट में लंबे समय तक विचाराधीन होने की वजह से चार साल से सीधी भर्ती के माध्यम से एक भी शिक्षक को तैनाती नहीं दी जा सकी।

यह भी पढ़ें:हिमाचल विधानसभा में विधेयक पेश, जबरन धर्म परिवर्तन करवाया तो होगी सजा

भी मिलेगी प्राइमरी स्कूलों में तैनाती

की विधायक आशा कुमारी के अनुपूरक सवाल के जवाब में शिक्षा मंत्री ने बताया कि हिमाचल के प्राइमरी स्कूलों में पहली बार जेबीटी प्रशिक्षित के अलावा बीएड डिग्रीधारक को भी तैनाती करने की तैयारी की जा रही है। कहा कि हाईकोर्ट ने बीएड को भी जेबीटी पदों पर नियुक्ति देने के आदेश दिए हैं। चलते अब बीएड और जेबीटी दोनों को प्राइमरी स्कूलों में तैनाती दी जाएगी।

See also  'दिल्ली में आई शिक्षा क्रांति से बढ़ा बच्चों का आत्मविश्वास',सिसोदिया बोले- सिर्फ रोजगार पाना लक्ष्य नहीं

महेंद्र सिंह ने की घोषणा कहा-आपदा राहत मैनुअल बदलेंगे

विधानसभा के मानसून सत्र (Himachal Vidhan Sabha Monsoon session) के तीसरे दिन राजस्व व जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश में आपदा राहत मैनुअल (Disaster Management Manual) को बदलने की घोषणा की। आपदाओं से होने वाले नुकसान की अधिक से अधिक भरपाई की जा सके। मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर विधायक इंद्रदत्त लखनपाल, जगत सिंह नेगी और बिक्रम जरियाल पूछे गए सवाल के जवाब में यह जानकारी दे रहे थे। के वन क्षेत्रों में लगने वाली आग और अन्य क्षेत्रों में वर्षा से हो रहे भूस्खलन और अन्य प्राकृतिक आपदाओं से फसलों व संपत्तियों को हो रहे नुकसान व बचाव व राहत के लिए दी जाने वाली धनराशि बढ़ाने को लेकर लाए चर्चा i

इस मानसून में 685 करोड़ का नुकसान

हिमाचल विधानसभा में आज महेंद्र सिंह ने बताया कि इस वर्ष मानसून के दौरान सरकारी व निजी संपत्ति को 685.77 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका हैए जबकि 186 लोगों की मौत हुई है। दौरान 112 पशुओं की भी मौत हुई है। में 749 कच्चे और पक्के घर तथा गौशालाएं क्षतिग्रस्त हुई हैं। मौजूदा मानसून सीजन के दौरान राज्य में सड़कों और पुलों को 323 करोड़ रुपए, पेयजल और सिंचाई योजनाओं को 344.26 करोड़ रुपए और बिजली बोर्ड को 65 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। वहीं प्रदेश में नुकसान की भरपाई के लिए सरकार ने एसडीआरएफ के तहत अभी तक 232.38 करोड़ रुपए विभिन्न विभागों को जारी किए हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

See also  Ministry Of Education Inaugurates Shikshak Parv To Take NEP Forward, Award Teachers

bhuhan

Balaji Advt 1

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments