Wednesday, October 5, 2022
HomeEducationव्यवस्था करना महत्वपूर्ण है स्कूल खोलना नहीं; बच्चे कम होंगे तो स्कूल...

व्यवस्था करना महत्वपूर्ण है स्कूल खोलना नहीं; बच्चे कम होंगे तो स्कूल बंद करने ही पड़ेंगे | Ambala News: Education Minister Kanwar Pal Gurjjar arrived in Ambala

अंबाला21

  • लिंक

कंवर गुर्जर।

के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने कहा कि विपक्ष बेफिजूल की बातें कर रहा है। उन्होंने पहले भी स्कूल बंद किए थे और संख्या पूरी होने पर 66 स्कूल दोबारा खोल भी दिए थे।स्कूल खोलना महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि व्यवस्था करना जरूरी है। वे आज अंबाला सिटी स्थित SA जैन कॉलेज में आयोजित वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

नहीं होंगे स्कूल बंद करने पड़ेंगे

शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार ने 41 स्कूल नए खोले हैं, लेकिन जहां बच्चे नहीं होंगे तो स्कूल तो बंद करने ही पड़ेंगे। कोई व्यवस्था तो करनी होगी। नहीं कि 2 बच्चों पर टीचर लगाना पड़ेगा। कि स्कूलों की व्यवस्था को ठीक करने के लिए ही यह निर्णय सरकार द्वारा लिया गया है।

लोगों की बात मानी

मंत्री ने कहा कि चिराग योजना के नाम पर लोगों को गुमराह करने का प्रयास है। से काई फर्क नहीं पड़ा। संवेदनशील है, लोगों की बात मानी। कहा कि ट्रांसफर संबंधित आ रही समस्याओं को लेकर टीचर्स के 2 बड़े संगठन को मुलाकात के लिए मंगलवार को बुलाया है। की कोई समस्या है तो वे उन्हें बता करते हैं।

हरियाणा पंजाब सरकार की सहमति के बाद चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम बदलकर शहीद भगत के नाम पर रखने का लिया गया , जिसको लेकर शिक्षा मंत्री पाल गुर्जर ने कहा कि बहुत खुशी की बात है इतने बड़े स्वतंत्रता अगर एयरपोर्ट होगा तो ️

See also  How can Indian education make space for the needs of ‘special’ children?
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments