Sunday, November 27, 2022
HomeBreaking Newsबोले- मैं कांग्रेस में किराएदार नहीं, हिस्सेदार हूं, धक्के मारकर निकालोगे तो...

बोले- मैं कांग्रेस में किराएदार नहीं, हिस्सेदार हूं, धक्के मारकर निकालोगे तो देखा जाएगा | Said – we are not tenants here, if you try to push it out then it will be seen

  • Hindi news
  • national
  • Said we’re not renters here, if you try to push it out it will be seen

दिल्ली10

  • लिंक

नबी आजाद के इस्तीफे के एक दिन बाद अब पंजाब के आनंदपुर साहिब से कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने बगावती तेवर दिखाए हैं। को उन्होंने कहा, ‘हमें किसी से कोई सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। 42 साल इस पार्टी को दिए हैं। जिन लोगों ने पत्र लिखे हैं, उन्होंने मुझसे ज्यादा समय पार्टी को दिया है। में हम किराएदार नहीं है, हैं। धक्के मारकर निकालने की कोशिश करोगे तो देखा जाएगा।’ यह बात गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे को लेकर कही।

तिवारी ने कहा, ‘मैं गुलाम नबी आजाद पर कमेंट नहीं करना चाहता। उनके पत्र के गुण-दोष में नहीं जाना चाहता। की सबसे अच्छी स्थिति में होंगे। के बारे में “ज्ञान” हास्यास्पद है। हममें से 23 लोगों ने 2 साल पहले सोनिया गांधी को लिखा था कि पार्टी की स्थिति चिंताजनक है और इसे गंभीरता से लिया जाना चाहिए। के बाद कांग्रेस सभी विधानसभा चुनाव हार गई। अगर कांग्रेस और भारत एक जैसे सोचते हैं, तो लगता है कि दोनों में से किसी एक ने अलग-अलग सोचना शुरू कर दिया है। मुझे लगता है कि 20 दिसंबर 2020 को सोनिया गांधी के आवास पर हुई बैठक में सहमति बन गई होती तो आज पार्टी के सीनियर नेता छोड़कर नहीं जाते।’

11661510134 1661578996

गुलाम नबी आजाद के कांग्रेस छोड़ने पर किसने क्या कहा है…

  • : लंबे समय तक आजाद के सहयोगी रहे और G-23 ग्रुप के सदस्य आनंद शर्मा ने कहा कि आजाद के फैसले ने मुझे चौंका दिया है। वहीं G-23 ग्रुप के एक अन्य सदस्य संदीप दीक्षित ने आजाद को पत्र लिखा है और कहा है कि बात पार्टी में बदलाव की थी, आप तो बगावत कर दिए।
  • : आज मुसीबत में है, सबको भाजपा और RSS के खिलाफ लड़ना है। के समय युद्ध से भागना पार्टी के साथ धोखा है। उन्हें सब कुछ दिया है। में आपका फर्ज है उस कर्ज को चुकाना।
  • : इनके करियर पर हम नजर दौड़ाएं तो बहुत बार इन्होंने ऐसी बात कही होंगी और हर बार इनको कुछ मिलता था। बार नहीं मिला तो वह नाराज हो गए। मैं नहीं समझता कि अगर मुझे कुछ नहीं मिला तो मैं पार्टी को नुकसान पहुंचाऊं।
  • : का इस्तीफा कांग्रेस के अंत की शुरुआत है। चलता जाएगा। अंत अभी और गति पकड़ेगा। लिए अब अपनी कमजोरियों को देखने का समय है।
  • : में रहकर कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे थे। कांग्रेस पार्टी ने उनको वह सारी जिम्मेदारियां दी जो दी जा सकती थीं, लेकिन फिर भी वे खामियां निकालते रहे। से पार्टी को कुछ नुकसान नहीं होगा।
1661497518 1661579086

आजाद बोले- नई पार्टी बनाएंगे, जम्मू-कश्मीर में लगी इस्तीफों की झड़ी
इस्तीफे के बाद आजाद ने कहा है कि वे जम्मू-कश्मीर वापस जाएंगे और नई पार्टी बनाएंगे। उन्होंने कहा- गांधी परिवार से मेरा रिलेशन ठीक है। लेटर में जो भी लिखा है, वो कांग्रेस के लिए लिखा है। इधर, आजाद के इस्तीफा देने के बाद जम्मू-कश्मीर में 5 पूर्व विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया है।

19 1 1661579204

See also  ‘No god is a Brahmin’, says JNU Vice Chancellor, flags ‘gender bias’ in Manusmriti
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments