Saturday, December 10, 2022
HomeBreaking Newsदिव्यांग बोली- जीभ से फर्श साफ करवाया, पेशाब पिलाई; सालों से सूरज...

दिव्यांग बोली- जीभ से फर्श साफ करवाया, पेशाब पिलाई; सालों से सूरज की रोशनी नहीं देखी | Jharkhand IAS Officer Wife; Who Is Seema Patra? and Her Crime Story | Ranchi News

रांचीही पहले पहले

रांची में 29 साल की एक आदिवासी दिव्यांग से दरिंदगी का मामला सामने आया है। उसे 8 साल से एक रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर महेश्वर पात्रा की पत्नी और भाजपा नेत्री सीमा पात्रा ने घर में कैद करके रखा था। नाम है। कि उसे भरपेट खाना नहीं दिया जाता था। पीटा जाता था और गर्म तवे से जलाया जाता था। कैद से छुड़ाकर रांची रिम्स में भर्ती किया गया है।

ने पुलिस को बताया कि मालिक इतने बेरहम थे कि रॉड से मारकर दांत तोड़ दिए। लाचार गई। ️ पेशाब कमरे से बाहर चली जाए तो सीमा जीभ से फर्श साफ करवाती थी। बताया कि उसने सालों से सूरज की रोशनी नहीं देखी। आने पर सीमा को पार्टी से निकाल दिया गया है।

रमेश बैस ने सीमा पात्रा मामले पर संज्ञान लेते हुए अपनी नाराजगी जताई है। की शिथिलता पर भी अपनी गंभीर चिंता जताते हुए राज्य के पुलिस महानिदेशक से पूछा है कि अब तक पुलिस ने दोषी के खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की है।

पढ़ने से पहले पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय जरूर दें…

काे कहती तो मारते थे मालिक
दंपती रांची के VIP इलाके अशोक नगर में रहती है। सुनीता ने बताया कि वह गुमला की रहने वाली है। के दो बच्चे हैं। बेटी की दिल्ली में जॉब लगी तो वह 10 साल पहले घर में काम करने दिल्ली गई। 6 साल पहले वह रांची वापस आ गई। से ही प्रताड़ित किया जा रहा था। वो काम छोड़ना चाहती थी, लेकिन 8 साल से घर में बंधक बनाकर रखा गया था। घर जाने के लिए कहती तो बुरी तरह मारा-पीटा जाता था। पर इलाज भी नहीं कराया जाता था।

पीड़ित सुनीता (दाएं) घर जाने को कहती थी तो आरोपी सीमा (बाएं) उसे रॉड से पीटती थी। खबर सामने आने के बाद सुनीता को BJP से निष्कासित कर दिया गया है।

See also  Shrikant Tyagi said That woman is like my sister I express my regret on incident

के कैद से ऐसे निकली युवती
ने एक दिन किसी तरह मोबाइल पर सरकारी कर्मचारी विवेक आनंद बास्के को मैसेज भेजकर अपने ऊपर हो रहे अत्याचार के बारे में जानकारी दी। अरगोड़ा थाने में शिकायत दर्ज की गई। बाद रांची पुलिस और जिला प्रशासन की टीम ने सुनीता को रेस्क्यू किया।

सीमा पात्रा के खिलाफ एससी-एसटी और आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

सीमा पात्रा के खिलाफ एससी-एसटी और आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान की प्रदेश संयोजक रही सीमा
के पति महेश्वर पात्रा राज्य में आपदा प्रबंधन विभाग में सचिव रहे हैं और विकास आयुक्त के पद से रिटायर हुए हैं। नेता रहीं। उन्हें पार्टी ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान का प्रदेश संयोजक भी बनाया था।

गई महिला के शरीर पर घाव के निशान मिले हैं।  होने के बाद पुलिस उसका बयान दर्ज करेगी।  में दो पुलिकर्मियों को भी लगाया गया है।

गई महिला के शरीर पर घाव के निशान मिले हैं। होने के बाद पुलिस उसका बयान दर्ज करेगी। में दो पुलिकर्मियों को भी लगाया गया है।

-एसटी धाराओं के तहत मामला दर्ज
सीमा पात्रा के खिलाफ रांची के अरगोड़ा थाने में एससी-एसटी की अलग-अलग धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। आईपीसी की धाराओं में भी केस दर्ज किया गया है। डीएसपी राजा मित्रा को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। पीड़ित के मेडिकली फिट होने का इंतजार कर रही है ताकि बयान दर्ज कराया जा सके। सुरक्षा में दो महिला पुलिसकर्मियों को भी लगाया गया है।

सीमा BJP की 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' विंग की राज्य समन्वयक रह चुकी हैं।  आने के बाद उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया है।

सीमा BJP की ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ विंग की राज्य समन्वयक रह चुकी हैं। आने के बाद उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments