Wednesday, October 5, 2022
HomeBreaking Newsतेजस्‍वी यादव ने आखिर ऐसा क्‍या किया? सीबीआइ ने चला बड़ा दांव,...

तेजस्‍वी यादव ने आखिर ऐसा क्‍या किया? सीबीआइ ने चला बड़ा दांव, बिहार के डिप्‍टी सीएम का अब क्‍या होगा

, /एएनआइ। Bihar News: करीब तीन हफ्ते बिहार में केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो (Central Bureau of Investigation) की छापेमारी (CBI Raid in Bihar) के बाद दिए गए अपने तीखों बयानों के कारण के के उप मुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव (Bihar Deputy CM Tejashwi Yadav) फंस रहे हैं। ने तब प्रेस कांफ्रेंस कर सीबीआइ अफसरों को चेतावनी दी थी। था कि केंद्र में हमेशा भाजपा की ही सरकार नहीं रहेगी। दौरान उन्‍होंने और भी ढेरों ऐसी बातें कही थीं, जो अब उनके लिए जी का जंजाल बन सकती हैं।

ये भी पढ़ें, तेजस्‍वी यादव पर आखिर क्‍या है आरोप, कितनी लंबी हो सकती है सजा

नेताओं के ठिकानों पर छापे के बाद भड़के थे तेजस्‍वी यादव

दरअसल, सीबीआइ ने पिछले महीने यानी अगस्‍त की 24 तारीख को बिहार के कई राजद नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी की थी। यह छापेमारी ठीक उसी दिन हुई थी, जिस दिन बिहार में बनी नई महागठबंधन सरकार को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना था। अगस्‍त महीने में ही बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भाजपा का साथ छोड़कर राजद और कांग्रेस के साथ चले गए थे। से सरकार बनाई जिसमें तेजस्‍वी यादव उप मुख्‍यमंत्री बनाए गए थे। से जुड़े घोटाले के मामले में अपने नेताओं पर छापेमारी से भड़के तेजस्‍वी ने सीबीआइ के बारे में काफी कुछ कहा था।

को कहा था – बच्‍चे नहीं हैं क्‍या?

यादव ने कहा था कि सीबीआइ वाले अफसर रिटायर्ड नहीं होंगे? अफसरों के बच्‍चे और परिवार नहीं हैं? उन्‍हें लगता है कि केंद्र में हमेशा एक ही सरकार रहेगी? आप देना चाहते हैं? यादव ने कहा था कि सीबीआइ एक संवैधानिक संस्‍था है। अफसर अपना काम ईमानदारी से करें। इशारे पर काम करना बंद करें। के इन बयानों को सीबीआइ अफसरों ने खुली धमकी माना है।

See also  BJP called Shahnawas Husain and Ravi Shankar prasad to Delhi will Nitish kumar change Government in Bihar

इसी आधार पर लगाई अर्जी

इसी आधार पर सीबीआइ ने दिल्‍ली की राउज एवेन्‍यू कोर्ट में अर्जी लगाकर आइआरसीटीसी घोटाले में तेजस्‍वी यादव की जमानत रद करने की गुहार लगाई है। इस मामले में तेजस्‍वी यादव के साथ ही उनकी मां राबड़ी देवी और पिता लालू यादव भी आरोपित हैं। परिवार के सभी सदस्‍य इस मामले में जमानत पर हैं।

शर्त तोड़ने का लगाया आरोप

ने कोर्ट में कहा है कि तेजस्‍वी यादव अपने प्रभाव का इस्‍तेमाल कर आइआरसीटीसी घोटाले की जांच को प्रभावित कर सकते हैं। उन्‍होंने सीबीआइ अफसरों को खुलेआम धमकाया है, जबक‍ि सीबीआइ उनके खिलाफ मामले की जांच कर रही है। सीबीआइ की अर्जी पर विशेष जज गीतांजलि गोयल ने इस मामले में तेजस्‍वी यादव को नोटिस देकर उनसे जवाब मांगा है। यादव का जवाब मिलने के बाद कोर्ट सीबीआइ की अर्जी पर फैसला लेगी। अगर कोर्ट सीबीआइ की बात मान लेती है, तो तेजस्‍वी यादव को जेल जाना पड़ सकता है।

Edited by: Shubh Narayan Pathak

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments