Saturday, October 8, 2022
HomeBreaking Newsकार की पिछली सीट पर भी नहीं लगाई सीट बेल्ट तो बजेगा...

कार की पिछली सीट पर भी नहीं लगाई सीट बेल्ट तो बजेगा अलार्म, कटेगा चालान… 7 Points में समझिए क्या बदला नियम – cyrus mistry death nitin gadkari new rules seat belt mandatory back seat passengers laws on wearing seat belt in india ntc

बड़े कारोबारी साइरस मिस्त्री की सड़क हादसे में मौत के अब सड़क सुरक्षा को लेकर सख्ती बढ़ने लगी है. मिस्त्री की रविवार को सड़क में मौत हो थी. कार में पिछली सीट पर बैठे थे और उन्होंने सीट बेल्ट नहीं लगा रखी थी. बाद से ही एक्सपर्ट पिछली सीट पर बैठने वाले यात्रियों के लिए भी सीट बेल्ट लगाने जरूरी करने की कह रहे थे. इस संबंध में अगले दिन में आदेश जारी करने वाली है.

सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि अब पिछली सीट पर वालों के लिए भी सीट बेल्ट लगाना जरूरी होगा. कि पिछली सीट पर बैठने वाले यात्री अगर सीट बेल्ट नहीं लगाते हैं, तो इस पर चालान लगेगा.

ये फैसला क्यों लिया? अब तक पिछली सीट पर सीट बेल्ट लगाना जरूरी नहीं था? को लेकर सरकार का आदेश कब तक आएगा? जरूरी सवाल के …

1. क्या लिया है फैसला?

और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को एक निजी में सरकार के फैसले की जानकारी दी. कि अब पिछली सीट बैठने पर सीट बेल्ट लगाना जरूरी होगा. करने होगा.

2. नहीं लगाया तो अलार्म बजेगा

अगर आगे की सीट पर बैठने वाले यात्रियों ने सीट नहीं पहना है तो अलार्म बजता है. अब पिछली सीट पर बैठे यात्री के सीट बेल्ट नहीं लगाने पर भी अलार्म बजेगा. ने इस बात की जानकारी दी है.

3. कब तक आ जाएगा?

नितिन गडकरी ने बताया कि इस संबंध में तीन दिन में आदेश लागू हो जाएगा. बाद पिछली सीट पर बैठने वाले यात्री के लिए सीट बेल्ट पहनना जरूरी हो जाएगा.

See also  17 करोड़ कैश मिला; ढाई लाख सरकारी किताबों में राष्ट्रगान से 'उत्कल-बंग' गायब | Dainik Bhaskar News Headlines; Tamil Nadu Priest Rahul Gandhi Meeting, Nitish Kumar Akhilesh Yadav Poster, Brahmastra Collection

सभी तरह की गाड़ियों पर लागू होगा. छोटी हो या बड़ी हो, पिछली सीट पर बैठे के लिए पहनना जरूरी होगा.

बताया कि पीछे की सीट पर भी बेल्ट लगाने के लिए की व्यवस्था करनी होगी. अलार्म सिस्टम भी लगाना होगा, जो पीछे बैठे यात्री सीट बेल्ट पर बजता रहेगा.

4. तक ऐसा कानून नहीं था?

– कार में सवार व्यक्ति के लिए सीट बेल्ट लगाना और टू-व्हीलर सवार व्यक्ति को हेलमेट पहनना जरूरी है. 2019 व्हीकल एक्ट में गया था.

– मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 194(B)(1) में लिखा है कि जो चलाता है या यात्रियों को ले जाता है, तो सीट बेल्ट लगाना जरूरी है. करने पर एक हजार रुपये का चालान वसूला जाएगा.

5. लिए भी जरूरी है क्या?

– . में सवार सभी लोगों के सीट बेल्ट लगाना है. मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 194(B)(2) कहती है कि अगर कार में 14 साल से कम उम्र का कोई बच्चा है, तो उसे भी सेफ्टी बेल्ट लगाना जरूरी है. नहीं करने पर भी एक रुपये का चालान जाएगा.

– बच्चों के लिए अलग से सीट आती है. में है. सीट में बेल्ट भी लगा होता है, सुरक्षित रहता है. कानून 14 साल या उससे ज्यादा उम्र के लोगों को सीट बेल्ट लगाना जरूरी है, लेकिन जो 14 साल से कम उम्र के हैं, लिए सेफ्टी रखनी जरूरी है.

6. तो फिर सरकार ने फैसला क्यों लिया?

सरकार ने ये फैसला साइरस मिस्त्री की कार हादसे में मौत के बाद लिया है. मिस्त्री की रविवार को सड़क में मौत हो थी. में साइरस मिस्त्री के अलावा उनके दोस्त जहांगीर दिनशॉ पंडोले भी मौत हो गई थी. की पिछली सीट पर थे और सीट बेल्ट नहीं लगाया था.

See also  Cyrus Mistry Aide On Ratan Tata

को अनाहिता पंडोले चला रही थीं. में उनके पति डेरियस पंडोले बैठे थे. हादसे में बुरी तरह घायल हो गए हैं. पंडोले के कूल्हे में फ्रैक्चर है तो डेरियस के जबड़े में फ्रैक्चर हो गया है. मुंबई के अस्पताल में इलाज चल रहा है.

का भी मानना ​​कि कार में सवार सभी लोगों लिए सीट , लेकिन पीछे बैठे यात्री अक्सर सीट बेल्ट नहीं लगाते हैं. एक वजह ये है कि आगे की पर बैठने वाले अगर सीट नहीं लगाते तो चालान , पीछे बैठे यात्री लगाने वालों से जुर्माना लिया ही नहीं जाता.

7. लगाना क्यों जरूरी?

– बेल्ट को बेहद सुरक्षित माना जाता है. कोई व्यक्ति कार में बैठा और उसने सीट बेल्ट नहीं लगाया है, तो हादसे की स्थिति में वो उछलकर बाहर भी आ सकता है. गंभीर चोटें आ सकती या फिर मौत भी हो सकती है.

– की एक स्टडी बताती है कि 2017 में सीट बेल्ट की वजह से 14,955 लोगों की जान बची थी. अमेरिका में 90 फीसदी से ज्यादा लोग कार चलाते समय सीट बेल्ट लगाते हैं. , में बहुत कम लोग ऐसा करते हैं.

– सेव लाइफ फाउंडेशन के 2019 के एक सर्वे में सामने आया था कि भारत में सिर्फ 7% लोग ही ऐसे हैं जो पीछे बैठते समय सीट बेल्ट लगाते हैं. वहीं, सिर्फ 26% लोग कभी-कभी सीट बेल्ट लगा लेते हैं.

– और परिवहन मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 में सीट बेल्ट नहीं लगाने से 15,146 लोगों की मौत हो गई थी. , 41 . से 7,810 मौत ड्राइवर की हुई थी, जबकि 7,336 मौतें यात्रियों की हुई थी. जबकि 39.102 घायल हो गए थे.

See also  नितिन गडकरी ने कहा- मेरा मंत्री पद गया, तो चिंता नहीं? जानिए इस वायरल वीडियो की पूरी सच्चाई | Nitin Gadkari BJP Minister | Truth Behind Viral Video Of Nitin Gadkari

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments