Tuesday, September 27, 2022
HomeBusinessइन 10 शेयरों को पोर्टफोलियों में शामिल कर भूल जाएं, Dividend से...

इन 10 शेयरों को पोर्टफोलियों में शामिल कर भूल जाएं, Dividend से होती रहेगी बंपर कमाई top 10 high dividend yield stocks, Vedanta, NMDC, IOC, REC, HUDCO, NALCO

Photo: INDIA TV high dividend yield stocks

Stock market निवेशकों के लिए अच्छे दिन नहीं चल रहे हैं। अनिश्चितता के चलते दुनियाभर के बाजारों में बिकवाली का दौर चल रहा है। भी इससे अछूता नहीं है। चलते इस साल की शुरुआत से अधिकांश कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई है। सभी तरह के निवेशकों को नुकसान उठाना पड़ा है। हालांकि, इस संकट के दौर में कई ऐसे शेयर हैं हो निवेशकों को अच्छी कमाई करा रहे हैं। वो अपने निवेशकों को Dividend से कमाई करा रहे हैं। ऐसे में अगर आप एक निवेशक हैं और लंबी समय के लिए किसी शेयर में निवेश करना चाहते हैं तो इन 10 शेयरों पर दांव लगा सकते हैं। शेयर में तेजी की उम्मीद किए बिना आसानी से डिविडेंड से हर तिमाही में कमाई कर पाएंगे।

  1. Vedanta: ओसवाल के आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले तीन वित्तीय वर्षों में शेयरधारकों को वेदांत का लाभांश भुगतान बढ़ा है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2015 में ₹3.9 प्रति शेयर का लाभांश दिया था, जो वित्त वर्ष 2015 में बढ़कर ₹9.5 प्रति शेयर हो गया, और वित्त वर्ष 22 में आगे बढ़कर ₹45 प्रति शेयर हो गया।
  2. NMDC: सरकार के स्वामित्व वाले खनिज उत्पादक, एनएमडीसी की लाभांश प्रतिफल वित्त वर्ष 2022 तक लगभग 12.1% है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2022 में अपने शेयरधारकों को ₹14.7 प्रति शेयर का लाभांश दिया था, जबकि वित्त वर्ष 2021 में 7.8 प्रति शेयर लाभांश और वित्त वर्ष 2010 में 5.3 रुपये प्रति शेयर लाभांश दिया था।
  3. Indian oil company: वित्त वर्ष 2012 के अंत तक तेल विपणन कंपनी की लाभांश उपज लगभग 11.8% है। FY22 में ₹8.4 प्रति शेयर के लाभांश का भुगतान FY21 में ₹8 प्रति शेयर और FY20 में ₹2.8 प्रति शेयर की तुलना में किया गया था।
  4. INEOS Styrolution: वित्त वर्ष 2022 तक स्पेशलिटी केमिकल कंपनी ने 11.4 फीसदी की दर से डिविडेंड दिया है। वित्त वर्ष 2022 के दौरान स्मॉल-कैप स्टॉक ने 105 रुपये प्रति शेयर डिविडेंड का भुगतान किया जो वित्त वर्ष 2011 में 10 प्रति शेयर की तुलना में दस गुना अधिक है।
  5. SAIL: वित्त वर्ष 2022 में सरकारी स्वामित्व वाली स्टील कंपनी ने 10.8 फीसदी की दर से डिविडेंड दिया है। पिछले वित्त वर्ष में ₹2.8 प्रति शेयर की तुलना में वित्त वर्ष 22 में इसका लाभांश ₹8.8 प्रति शेयर था।
  6. Power Finance Corporation: भारत की सबसे बड़ी इन्फ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस कंपनी, PFC की वित्त वर्ष 2022 में 10.2% की डिविडेंड यील्ड है। कंपनी ने FY22 में ₹12 प्रति शेयर के लाभांश का भुगतान किया, जबकि FY21 में ₹10 प्रति शेयर और FY20 में ₹9.5 प्रति शेयर डिविडेंड दिया था।
  7. 7REC Limited: बिजली क्षेत्र में पीएफसी समर्थित वित्तीय सेवा प्रदाता कंपनी आरईसी ने वित्त वर्ष 22 में 9.3 फीसदी डिविडेंड दिया। कंपनी ने वित्त वर्ष 2021-22 में ₹10 प्रति इक्विटी शेयर का भुगतान किया।हालांकि, 2021 में ₹11 प्रति शेयर से कम लेकिन 2020 में ₹ ₹8.3 प्रति शेयर से अधिक है।
  8. HUDCO: सरकारी स्वामित्व वाली हुडको, जो आवास वित्त में सेवाएं प्रदान करती है और शहरी बुनियादी ढांचे के विकास में भूमिका निभाती है ने वित्त वर्ष 22 के अंत तक 8.5 फीसदी का डिविडेंड दिया। वित्त वर्ष 2022 में कंपनी का लाभांश ₹3.5 प्रति शेयर था जो कि वित्त वर्ष 2021 में ₹2.2 प्रति शेयर लाभांश से अधिक हैए लेकिन वित्त वर्ष 2020 में 3.1 प्रति शेयर लाभांश से कम है।
  9. National Aluminum (NALCO): खनन, धातु और बिजली क्षेत्र में विविध कार्यों के साथए नाल्को एक सरकारी वाली फर्म है, जिसने वित्त वर्ष 2022 के अंत तक 8.4 फीसदी की दर से डिविडेंड दिया। वित्त वर्ष 2022 में कंपनी का लाभांश 6.5 रुपये प्रति शेयर था।
  10. Hinduja Global Solutions: आईटी सेवा प्रबंधन कंपनी, एचजीएस की वित्त वर्ष 2022 में 8.3 फीसदी की दर से लाभांश दिया है। वित्त वर्ष 2022 में 2021 के मुकाबले कंपनी का लाभांश 9.5 गुना अधिक था कंपनी ने प्रति शेयर ₹124 का डिविडेंड दिया।

Latest business news


See also  Royal Enfield Himalayan 450 teased on Instagram by Eicher MD Siddhartha Lal
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments