Wednesday, November 30, 2022
HomeSportsअंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप की मेजबानी का रास्ता साफ, 11 अक्टूबर से...

अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप की मेजबानी का रास्ता साफ, 11 अक्टूबर से शुरू होगा टूर्नामेंट | fifa-lifts-bans-on-aiff India will host the Under-17 Women’s World Cup, to be held in October

  • Hindi news
  • Sport
  • FIFA lifts ban on aiff India will host the Under 17 Women’s World Cup to be held in October

दिल्ली23

पूरी दुनिया में फुटबॉल का संचालन करने वाली संस्था FIFA ने भारतीय फुटबॉल संघ (AIFF) पर लगाए गए बैन को हटा लिया है। साथ ही फीफा ने कहा है कि अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप 2022 अब भारत में पहले से तय कार्यक्रम के अनुसार आयोजित किया जा सकता है। इस टूर्नामेंट का आयोजन 11 से 30 अक्टूबर तक भुवनेश्वर, गोवा और मुंबई में होना है।

इससे पहले 15 अगस्त को FIFA ने AIFF को बैन कर दिया था। FIFA के नियमों और संविधान के गंभीर उल्लंघन की वजह से यह कार्रवाई की गई थी। इस फैसले की वजह से अक्टूबर में होने वाले अंडर वर्ल्ड कप की मेजबानी के अधिकार भी भारत से छीन लिए गए थे।

अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप का आयोजन 11 से 30 अक्टूबर तक भुवनेश्वर, गोवा और मुंबई में होना है।

AIFF तीसरे पक्ष के दखल से नाराज था FIFA
फीफा ने AIFF को थर्ड पार्टी इन्फ्लुएंस की वजह से सस्पेंड कर दिया था। AIFF के 85 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था। कुल 11 तक चला। FIFA AIFF में बाहरी संस्था के हस्तक्षेप से नाराज था। पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर खेल मंत्रालय ने AIFF के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल को हटाकर कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स (COA) का गठन किया था।

FIFA ने इस पर नाराजगी जताते हुए कहा- ‘वह थर्ड पार्टी के हस्तक्षेप को नहीं मानता। FIFA ने चेतावनी दी थी- ‘जल्द ही हस्तक्षेप बंद नहीं हुआ तो भारत से फीफा अंडर -17 विमेंस वर्ल्ड कप भी छीना जा सकता है।’

See also  Daily Schmankerl: The aftermath of Bayern Munich vs. VfB Stuttgart; Miroslav Klose battling in Austria; Another report of unhappiness at Bayern; FC Barcelona already eyeing next summer’s big transfer; Leon Draisaitl’s Bayern hockey squad; & MORE!

कोर्ट ने COA को भंग किया

सुप्रीम कोर्ट ने 18 मई को फ्रफुल्ल पटेल को हटाकर AIFF का प्रशासन संभालने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी बनाने का आदेश दिया था।

सुप्रीम कोर्ट ने 18 मई को फ्रफुल्ल पटेल को हटाकर AIFF का प्रशासन संभालने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी बनाने का आदेश दिया था।

बैन के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में 22 अगस्त को सुनवाई हुई। अदालत ने अगले आदेश तक मई में बनाई गई तीन सदस्यीय कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स (COA) को भंग कर दिया। साथ ही कहा कि COA अगले आदेश तक AIFF के मामलों में दखल नहीं देगी।

FIFA ने कहा कि वह और AFC (एशियन फुटबाल फेडरेशन) हालात की मॉनिटरिंग करना जारी रखेंगे और समय पर चुनाव कराने में AIFF का सपोर्ट करेंगे।

के उल्लंघन के कारण हटाए गए थे प्रफुल्ल
स्पोर्ट्स कोड के उल्लंघन के चलते हटाए गए थे। कोर्ट के आदेश पर खेल मंत्रालय ने हटाया था। ने 28 अगस्त तक चुनाव के आदेश दिए हैं।

2009 से AIFF के अध्यक्ष थे। भारत के स्पोर्ट्स कोड के अनुसार कोई भी व्यक्ति 3 बार से ज्यादा अध्यक्ष नहीं बन सकता है। ने खुद को अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद एक याचिका में मांग भी की थी कि जब तक नए संविधान को स्वीकार नहीं कर जाता और नए अध्यक्ष को नहीं चुना जाता तब तक उनका कार्यकाल बढ़ा दिया मांग उनकी मांग दिया।

कमेटी एडमिनिस्ट्रेटर्स
COA में सुप्रीम कोर्ट के ही पूर्व जज एआर दबे कमेटी के अध्यक्ष हैं। इसके अलावा, पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी और भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान भास्कर गांगुली भी इसमें शामिल हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments